गर्भावस्था सात सप्ताह - शिशु विकास, गर्भावस्था लक्षण और प्रेगनेंसी टिप्स | 7 week pregnancy in hindi

7 week pregnancy in hindi - सात सप्ताह गर्भावस्था में क्या क्या होता है? आप महसूस तो करेंगी जैसे आप गर्भवती हो चुकीं हैं मगर गर्भवती बिल्कुल नहीं लग रही होती, शायद आपने कुछ वजन भी बढ़ा लिया हो या आपके वजन में थोड़ी कमी आई होगी..



7 वीक प्रेगनेंसी मतलब गर्भावस्था पहली तिमाही का मध्य भाग, इसी समय से लगभग 90% गर्भवतियों को प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण महसूस होने लगती हैं 

 या तो आप चेहरे की चमक से खुश होंगी या झुरियों की समस्या से झुलसने लगी होंगी


प्रेगनेंसी के इस सप्ताह में जितने भी बदलाव होते हैं सभी आंतरिक होंगे मतलब बाहर से तो आप कोई बदलाव नहीं दिखेगी लेकिन अंदर बहुत कुछ चल रहा होता है।  


चलिए जानते हैं इस सप्ताह शिशु और गर्भवती में क्या क्या बदलाव आते है तथा किसी प्रकार के डिसकम्फर्ट से कैसे बच सकते हैं



7 week pregnancy मतलब - 2 माह गर्भावस्था

1st trimester मतलब - गर्भावस्था दूसरी तिमाही

33 week's to go मतलब - 33 सप्ताह बचें




गर्भावस्था सात सप्ताह - शिशु विकास, प्रेगनेंसी सिंप्टम्स और देखभाल से जुड़ी जरूरी बाते | 7 week pregnancy in hindi


7-week-pregnancy-in-hindi


Here's quick summary


  • गर्भनाल : इस सप्ताह गर्भनाल प्लेजेंटा और शिशु को जोड़ता है इसी की सहायता से शिशु ऑक्सीजन तथा जरूर न्यूट्रिएंट लेता तथा दूषित तत्वों को शरीर से बाहर निकालने में सक्षम हो पाता है।
  • म्यूकस प्लग : इस सप्ताह गर्भाशय और शिशु को हानिकारक तत्वो से बचाने के लिए म्यूकस (श्लेमा) का एक कवच सर्विक्स की ओपनिंग पर बनता है
  • हाथ और पैरो का विकास : इस सप्ताह शिशु की बांहे और पैर विकसित होने लगते है, हालांकि, अभी ये पैडल के समान दिख रहे होते है।





सात सप्ताह गर्भावस्था में शिशु का विकास | baby development by week 7 pregnancy in hindi


 

शिशु का आकार - baby size at 7 week 


सामान्यतः शिशु का आकार अभी भी बहुत छोटा है लेकिन अगर इसे आप कंसीव करने के समय से मापे तो शिशु अभी 10,000 गुना बड़ा हो चुका है। 7 सप्ताह गर्भावस्था में शिशु का आकर ¼ इंच के बराबर होता है, हालंकि, शिशु आने वाले सप्ताहों में बड़ा होगा

 

दिमागी कोशिकाएं विकसित होंगी



गर्भावस्था के सातवें सप्ताह में शिशु का विकास आत्याधिक रूप से सिर का हो रहा होता है जहां शिशु का दिमाग नई कोशिकाओं को तेजी से विकसित करने में व्यस्त होता है

दिमाग हर पल नई कोशिकाओं का निर्माण हो रहा होता है लगभग 100 कोशिकाएं प्रति मिनट के दर से नए कोशिकाएं विकसित हो रहीं होती हैं




शिशु के बांहे तथा पैर बनने लगे


बात करें अगर शिशु के हांथ और पैरो की तो पिछले सप्ताह शिशु में जो पंखों के समान कोशिकाएं विकसित हुई थी जो पैडल के समान दिख रहे होते हैं यहीं आगे चलकर शिशु के हांथो तथा पैरों में विकसित होंगे

पिछले सप्ताह हांथो और पैरों के लिए जों बर्ड्स विकसित हुए थे, 7 सप्ताह में ये तेजी से विकसित होने लगते है मतलब की अब उन पैडल जैसी कोशिकाओं से शिशु के बांहे, कलाईयां साफ नजर आ रही होती हैं पैर भी दिखने लगते है। हालांकि, ये पूर्ण रूप से विकसित नहीं हुई होते है।




किडनियों का विकास 

 

शिशु का शरीर अब यूरिन बनाने लगा है इस सप्ताह शिशु की किडनीयां अपनी जगह पर आ जाती है तथा अपना कार्य संचालित करने को अग्रसर होने लगते है। मतलब शिशु अब शरीर के दूषित तत्वों को बाहर निकालने में सक्षम हो गया है।



शिशु की आंख


आंखों के अंदर, मुख्य अंग, जो शिशु को देखने में मदद करते है "कॉर्निया, आईरिश, पुपिल, लेंस और रेटीना इस सप्ताह विकास की प्रारंभिक अवस्था में होते है जो अगले सप्ताह तक तैयार हो जाएंगे

 

गर्भनाल का विकास 


अम्बलाइकल कॉर्ड भी अपने आकार में आ रहा होता हैं यहीं शिशु और प्लेजेंटा को जोड़ने का कार्य करता है जिससे शिशु ऑक्सीजन, ब्लड और दूसरे न्यूट्रिएंट्स ले पाता हैं तथा दूषित पदार्थो को निष्काशित करने में सक्षम हों पाता हैं




सात सप्ताह में गर्भवती का शरीर | your body at 7 week pregnancy in hindi


7-week-pregnant-belly



संकेतों को समझें


चाहे आप ये किसी को ना बताइए आप गर्भवती हो चुकी हैं लेकिन शिशु आपको जरूर बता रहा होता है प्रेगनेंसी सिंप्टम्स जो गर्भावस्था के इस आप महसूस करेंगी, जैसे गर्भावस्था में होने वाली उल्टी और मतली जो आपको पूरे दिन परेशान कर सकता है

कुछ प्रेगनेंसी के लक्षण तो ऐसे भी हैं जिससे महिलाएं खुद को बचा भी नहीं सकती जैसे स्तनों का बढना, सूजन और दर्द महसूस करना




फूड एवर्जन



हालांकि, बस फूड एवर्जन नहीं है जों गर्भवतीयों में कॉमन होते हैं जब गर्भावस्था में महिला को उन खाद्य पदार्थों के प्रति अरुचि लगने लगे जो कभी उनके पसंदीदा हुआ करते थे इसे ही फूड एवर्जन कहते हैं

अभी के समय आपके लिए एक अच्छी सलाह यही होगी, प्रेगनेंसी के इस नए टेस्ट (बदलाव) का आनंद ले, उन खाद्य पदार्थों की खोज करें जो आपके खाने को बोरिंग बनने से बचा सकें, क्युकी आप गर्भवती हो गई हैं आपको एक हेल्दी डाइट लेने पर अधिक ध्यान देना चाहिए



शिशु के बारे में जाने


लड़का या लड़की...? वैसे अभी बहुत जल्दी हो जाएगा शिशु के इतने बड़े राज को जान पाना, लेकिन कुछ तरीके हैं जो आपको इसमें भी सहायता कर सकते हैं जिससे आप गर्भ में ही शिशु का लिंग जान सकते हैं

 


सात सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण | Week 7 Pregnancy symptoms in hindi



गर्भावस्था में शारीरिक बदलाव बहुत तेजी से होते हैं इसलिए यह जान पाना कि कोई नया दर्द या लक्षण सामान्य है या आपको किसी विशेषज्ञ को दिखाने की आवश्यकता है आइए जानते है प्रेगनेंसी के कुछ सामान्य लक्षणों को...




सुगंध लेने की क्षमता में विकास - higtend sense of smell 



बहुत सी गर्भवतियों के लिए "सेंस ऑफ स्मेल" में आया ये बड़ा परिवर्तन उनके लिए परेशानी का सबब भी बन जाता हैं वैसे ये शरीर में बढ़े एस्ट्रोजन लेवल का असर होता है जो गर्भवती के सुगंध ले पाने की क्षमता को बढ़ा देता है। हों सकता है आपको घर या पार्टनर की किसी गंध से परेशानी होने लगे 




कोई प्रेगनेंसी लक्षण नहीं



अगले सप्ताह तक लगभग 90% से भी ज्यादा गर्भवतियों को प्रेगनेंसी के सिंपटम्स महसूस होने लगती है, हालांकि, सब नहीं! अगर आप गर्भवती हैं लेकिन लक्षण आते और चले जाते हैं तो आपको एक बार पॉजिटिव प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए, जिससे जाना जा सके क्या सच मे आप गर्भवती हैं या नहीं




हार्ट बर्न - heart burn



हार्टबर्न और जलन महसूस होना पूरी प्रेगनेंसी में असुविधाजनक होता है गर्भावस्था के इस समस्या आप इससे छुटकारा भी नहीं पा सकती हैं ये अधिकांशतः गले के नीचे तथा आंतो के ऊपर वाले हिस्से में महसूस होता हैं, वैसे तो इस समस्या से आप छुटकारा नहीं पा सकती लेकिन कुछ चीजे आप कर सकती है जो हार्टबर्न कम करने में आपकी सहायता कर सकता हैं जैसे - कम कम करके खाना, खाने के बीच में पानी पीना, चिंगम चबाना




कब्ज की समस्या



लगभग आधी से ज्यादा गर्भवतियां प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या महसूस करती है प्रेगनेंसी हार्मोनस् का इसके पीछे बहुत बड़ा हाथ होता है रिलैक्सिन हार्मोन जो शरीर के मसल्स और जॉइंट्स को लचीला बनाते है यही आंतो के मसल्स को रिलैक्स कर देता है जिसके कारण आंतो से खाना धीरे धीरे होकर जाता है। इस समस्या में अधिक पानी पीना और फाइबर युक्त भोजन करना काफी मददगार होता है।




सर्वाइकल चेंजेस



गर्भावस्था के आखिरी समय में महिला की सर्विक्स पर सबसे अधिक कार्यभार होता है क्युकी शिशु के बाहर आने के लिए सर्विक्स का डाईलेट और एफेस होना जरूरी होता है। प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में भी महिला की सर्विक्स महत्त्वपूर्ण होती है हार्मोन और ब्लड फ्लो बढ़ने से सर्वाइकल म्यूकस (श्लेमा) में भी बढ़ोतरी होती है जो अभी पतला, दूधिया सफेद तथा गंध रहित होता हैं

यही सर्वाइकल म्यूकस (श्लेमा) मिलकर, सर्विक्स को बंद करती है जिससे किसी भी बाहरी जीवाणुओं का प्रवेश गर्भाशय में ना हों सकें 




प्रेगनेंसी ग्लो



प्रेगनेंसी में सुन्दरता बढ़ने की बात तो आपने जरूर सुनी होंगी, शरीर में रक्तस्राव बढ़ने से गर्भवती की सुन्दरता में भी बदलाव आता है जिससे उनके चेहरे पर निखार और चमक आने लगता है लेकिन प्रेगनेंसी हार्मोन के कारण की स्किन अधिक ऑयली दिखने लगती है





गर्भावस्था सातवे सप्ताह में पेट निकलना | Pregnant belly at 7 week pregnancy in hindi




गर्भावस्था के इस सप्ताह में भी आपका पेट बिल्कुल पहले की तरह ही नजर आ रहा होता हैं, हालांकि, स्तनों के बड़े हुए आकार आपको कुछ अलग ही कहानी बता रहे होंते है। अगर आप पहली बार मां बनी होंगी तो इनके आकार में दोगुना वृद्धि देख सकती हैं तथा इनमें दर्द व खुजली भी होती होगी, स्ट्रेच मार्क्स भी पड़ने लगें होंगें

 


गर्भावस्था के सातवे सप्ताह में अल्ट्रासाउंड | Ultrasound 7 week pregnancy in hindi



वैसे तो गर्भावस्था के सातवे सप्ताह में आपको अल्ट्रासाउंड कराने की जरुरत नहीं, लेकिन अल्ट्रासाउंड के जरिए आप शरीर में होने वाले बतलाओ को समझ सकती है




गर्भावस्था सात सप्ताह के लिए टिप्स | Self care tips 7 week pregnancy in hindi




सही से खाना, जरूरत के मुताबिक पानी पीना, आराम करना, अपने लिए समय निकालना, इस सप्ताह आपको अपनी त्वचा और आंतो पर खास ध्यान देना चाहिए



कब्ज से आराम



फैले हुए पेट तथा कब्ज के कारण होने वाली असुविधा में अधिक से अधिक पानी पीना, थोड़ा एक्सरसाइज और इनसोल्युबल फाइबर युक्त भोजन करना बहुत आराम पहुंचता है इनसोल्युबल फाइबर युक्त भोजन जैसे - गेंहू, अलसी, फल - सब्जियां, दाले आदि ले




त्वचा की देखभाल करें



प्रेगनेंसी में आए निखार का एक कारण शरीर में बढ़ा रक्त स्तर है प्रेगनेंसी हार्मोनस का भी इसमें बहुत बड़ा हाथ होता है हार्मोनस ही त्वचा में मौजूद ग्लैंडस को अधिक ऑयल निकालने को प्रेरित करते हैं त्वचा में चमक लाता हैं लेकिन इससे एक्ने की समस्या भी हो सकती है

अगर चेहरे की चमक एक्ने, पिंपल और झुरियो की वजह से जाने लगी है तो अपने चेहरे को किसी अच्छे क्लींजर से धोएं, ऑयल फ्री मॉइश्चराइजर उपयोग करना भी लाभदायक होता है





हाईपरमिश ग्रेवीड्रम 



हाईपरमिश ग्रेवीड्रम प्रेगनेंसी की एक ऐसी कंडीशन है जहां गर्भवती अत्याधिक उल्टी और मतली की समस्या से पीड़ित हो जाती है। जो उन्हे डिहाईड्रेशन और वेट लॉस होने जैसी समस्या से पीड़ित बना देता है, हालांकि, हाईपरमिश ग्रेवीड्रम 2 से 3% गर्भवतियों को ही प्रभावित करता है

हाईपरमिश ग्रेवीड्रम अधिकांशतः शुरूआती प्रेगनेंसी में शुरु होते हैं 9 सप्ताह तक यह अपनी चरम सीमा पर होता हैं तथा 20 सप्ताह तक कम होते जाता हैं यदि आप आशंकित है हाईपरमिश ग्रेवीड्रम के लिए तो अपने निरीक्षक से इस पर चर्चा करें




अपने वजन को जाने 



हालांकि, अभी तो आपको बेबी बंप नहीं देखने को मिलेगा, लेकिन आपने कुछ वजन जरूर गेन किया होगा, सामान्यत: महिलाए जिनका BMI (बीएमआई) 18.5 से 24.9 होता है प्रेगनेंसी में 25 से 35 पाउंड तक वजन गेन करती है जिनका BMI (बीएमआई) कम या ज्यादा होता है थोड़ा कम या ज्यादा वजन गेन करती हैं

पहली तिमाही में शिशु बहुत छोटा होता है इस समय गर्भवतियां 2 से 4 पाउंड वजन ही गेन करती हैं या शायद लूज भी कर जाए, चिंता न करें दूसरी तिमाही में आपकी भूख ही आपके वजन बढने का कारण बनेगा




प्रेगनेंसी में क्रेपिंग भी सामान्य है



गर्भावस्था के इस समय भी अगर आप पेट की ऐठन से पीड़ित हैं तो इसमें कोई चिंता की बात नहीं क्युकी पहली तिमाही में क्रेपिंग का होना भी सामान्य रहता हैं लेकिन अगर ये कंधे, गर्दन दर्द तथा इसके साथ कॉन्ट्रेक्शन, चक्कर और डिस्चार्ज जैसी समस्या हो रही हैं तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें 



सात सप्ताह के लिए प्रेगनेंसी डाइट


प्रोटीन युक्त भोजन खाए - जैसे नाइट्स, मूंगफली, दाल
यदि आप दूध नहीं पीना चाहती, तो आप दही का सेवन करें 
हरी सब्जियां खाये, रेशेदार फल और सब्जियां जरूर सेवन करे



Hindiram के कुछ शब्द

7 सप्ताह गर्भावस्था, इस समय महिलाएं अधिकांशत: शुरुआती प्रेगनेंसी के लक्षणों से जूझ रहीं होती हैं चिंता की कोई बात नहीं क्युकी ये सभी प्रेगनेंसी के लक्षण महसूस होना सामान्य है, लेकिन फिर भी आपको इसको लेकर कोई शंशा है तो आप उसे अपने निरीक्षक से पूछ सकती हैं। इस समय शिशु में विकास बहुत तेजी से हो रहा होता हैं तथा अगले सप्ताह तो शिशु बहुत कुछ इंसानों जैसे भी दिखने लगता है
और नया पुराने