गर्भावस्था का सत्तरहवां सप्ताह - शिशु विकास, गर्भावस्था लक्षण और प्रेगनेंसी टिप्स | 17 week pregnancy in hindi

प्रेगनेंसी में चक्कर आने जैसी समस्या अक्सर सत्तरह सप्ताह गर्भवास्था (दूसरी तिमाही) से ही शुरू हो जाती हैं इन सब के लिए आप प्रेगनेंसी हार्मोन, बढ़ते गर्भाशय और फैलते संचालन प्रणाली को जिम्मेदार ठहरा सकती हैं क्युकी अब आप प्रेगनेंसी के एक चौथाई हिस्से में आ गई होती है



सत्तरह सप्ताह गर्भवती होने पर गर्भ में शिशु अपना वजन बढ़ाने में लगा होता है मतलब आप कुछ नए दर्द, डिसकंफर्ट महसूस कर रही होंगी, शिशु में अंगूठा चूसने वाली हरकत शुरु हो गई है उसके फिंगरप्रिंट भी डिवेलप होने लगे हैं

अब समय है निर्णय लेने का, क्योंकि आप 17 सप्ताह की गर्भवती हो गई है उन चीजों के बारे में सोचना जिसे आपको इस प्रेगनेंसी में करना है निर्णय लेना प्रेगनेंसी को और अधिक वास्तविक बना देता है जो देखने में काफी रोमांचित भी लगता है।

वहीं अंदर से आप डरी, सहमी सी भी होंगी, जैसे कि आप 17 सप्ताह की गर्भवती हैं यहां बहुत सी चीजें हैं जो आपको करनी पड़ती है यह आपके लिए काफी तनावपूर्ण हो सकता हैं सब चीजें अकेले ना करें बल्कि मदद भी ले



17 week pregnancy मतलब - 4 माह गर्भवास्था
2nd trimester मतलब - गर्भवास्था दूसरी तिमाही
23 week's to go मतलब - 23 सप्ताह बचे



सत्तरह सप्ताह गर्भावस्था - शिशु का विकास, प्रेगनेंसी सिंप्टम्स और देखभाल से जुड़ी जरूरी बाते | 17 week pregnancy in hindi


17-week-pregnancy-in-hindi


Here's quick summary

  • गर्भ में शिशु निगलने और अंगूठा चूसने जैसी हरकतों की प्रैक्टिस कर रहा होता है गर्भ के बाहर जीवन के लिए
  • शिशु के कान अभी बहुत बड़े बदलाव से गुजर रहे है तथा जल्द ही वह आपको सुनने भी लगेगा
  • शिशु के त्वचा के नीचे अब फेट सेल्स बनने लगे है जो उसे एनर्जी और गर्मी प्रदान करत हैं






सत्तरह सप्ताह गर्भावस्था में शिशु का विकास | Baby development by week 17 pregnancy in hindi




सत्तरह सप्ताह में शिशु का आकार कितना हैं - baby size at 17 week 



17 वीक प्रेगनेंसी में शिशु अपने शरीर में फैट बढ़ाने लगा होता हैं अब तक आपके छोटे से बेबी का वजन 5 आउंस या इससे अधिक हो गया होता है। उसका आकार लगभग आपकी हथेलियों के बराबर 5 इंच तक सिर से पांव तक हो गया होता है


मसल्स एंड बोन्स


शिशु धीरे-धीरे मजबूत और बड़ा होते जा रहा है जैसे-जैसे उसके मसल्स डेवलप होते है वह मेच्योर बनने लगा होता है


गर्भनाल और प्लेजेंटा


गर्भनाल और प्लेजेंटा भी निश्चित रूप से विकसित हो रहे होते हैं गर्भनाल मोटा और लंबा बनते जा रहा हैं जिससे वह शिशु को पोषित कर सके, प्लेजेंटा भी मेच्योर होने लगा हैं तथा ब्लड सरकुलेशन के जरिए शिशु तक न्यूट्रिएंट्स और ऑक्सीजन पहुंचाने लगा होता है


अंगूठा चूसने वाली हरकत


आप जानते ही हैं शिशु कितना बढ़ा हो गया। 5 इंच लगभग आपकी हथेली के बराबर, शिशु का शरीर अब बॉडी फैट स्टोर करने लगा है जो जन्म तक चलता रहेगा। अब आपके शिशु ने भी अंगूठा चूसने वाली हरकत शुरू कर दि होती, शायद अभी से वह खुद को दूध पीने के लिए तैयार कर रहा है


फिंगरप्रिंट बनने लगे


अगर आप जानना चाहे शिशु हममें से एक है या नहीं? तो अगले सप्ताह तक उसके हाथ व पैरो मे उसके खुद के फिंगरप्रिंट बन गए होंगे मतलब शिशु हममें से एक बन गया है




सत्तरह सप्ताह में गर्भवती का शरीर | Your body at 17 week pregnancy in hindi


17-week-pregnant-belly


बढ़ते पेट को छूने वाले


क्योंकि अब आपका पेट भी दिखने लगा है इसलिए आपके दोस्त, बच्चे अक्सर आपके बढ़ते पेट को बार बार छूने की कोशिश करते होंगे

अगर आपको इन सभी चीजों से कोई ऐतराज नहीं तो ठीक है लेकिन पेट को बार बार छूना यदि आपको नहीं पसंद तो आप उन्हें साफ मना कर सकती हैं। इस सप्ताह आप शारीरिक बदलाव भी महसूस कर सकती हैं वेजाइनल डिसचार्ज (Leukorrhea), सेंसटिविट स्किन, एलर्जी 



प्रेगनेंसी में भूख का बढ़ना


बिती तिमाही में उल्टी और ऐठन ने तो कभी आपको पेट भर खाने का मौका ही ना दिया हो, मगर अब ऐसा बिल्कुल भी नहीं होने वाला, दूसरी तिमाही ना सिर्फ महिलाओं को राहत की सांस लेने में मदद करती हैं बल्कि उनकी भूख को भी बढ़ा देती है। इसका एक कारण यह भी है शिशु भी अब अपना वजन बढ़ाने लगा होता हैं 

वैसे तो यह अनुमान लगाना की आपका पेट कितना निकलेगा बहुत कठीन है लेकिन आपको यहां हेल्दी रूप से वेट गेन करना चाहिए



खर्राटे लेना


प्रेगनेंसी का ये सिंप्टम्स जिसने अभी तक आपका पीछा नहीं छोड़ा होगा, इसके लिए भी आप प्रेगनेंसी हार्मोन्स को जिम्मेदार मान सकतीं हैं जो नाक में आए इस बदलाव का बहुत बड़ा कारण है

अभी के लिए आप अपने कमरे में humidifier रख सकते हैं तथा जब आप सोने जाए तो नेसल स्ट्राइप्स का उपयोग बंद नाक को खोलने में कर सकते है आपको प्रेगनेंसी पिल्लो (तकिये) के उपयोग के बारे में जरुर सोचना चाहिए



सत्तरह सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण | Week 17 Pregnancy symptoms in hindi



बढ़ती भूख


इस सप्ताह आपका पेट किसी कुएं से कम नहीं होगा जिसकी भूख शांत ही नहीं हो रहीं होगी, क्योंकि अब आपका शिशु भी बढ़ रहा हैं इसलिए ये जरुरी है कि आप उसके लिए हेल्दी और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन खाएं, क्युकी शिशु आपके खाने से ही अपने पोषक तत्वों की पूर्ति करता है


स्ट्रेच मार्क्स


वैसे ये निशान प्रेगनेंसी (गर्भवती) होने की निशानी है। यदि आपके शरीर में भी स्ट्रेच मार्क्स दिखने लगें हैं इसका मतलब है कि आपने प्रेगनेंसी के एक अहम पड़ाव को पार कर लिया है वैसे स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए आपको धीरे धीरे वेट गेन करना चाहिए। इससे आपके मसल्स कम स्ट्रैच होते हैं जिससे स्ट्रैच मार्क्स भी कम होते है।



अचानक सिर दर्द


चाहें आपके सिर दर्द के पीछे कारण जो भी हो - प्रेगनेंसी हार्मोन या किसी बात से तनाव, प्रेगनेंसी मे सिर दर्द सामान्यत: लगभग सभी महिलाएं महसूस करती है। चाहे तो आप दर्द कम करने के लिए actaminophen ले सकती है मगर कोई भी मेडिसीन लेने से पहले एक बार अपने निरीक्षक से सलाह जरूर लें



चक्कर या बेहोशी


डिहाइड्रेशन या शरीर में पानी की कमी भी चक्कर आने का एक कारण होता हैं इसलिए कोशिश करें आप खुद को हाइड्रेटड रखें - कम से कम रोज आपको 8 से 10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए, आप ज्यादा भी पी सकती है।



हार्टबर्न और अपच


अगर कुछ खाने के बाद आपको लगे जैसे सीने में जलन हो रही हो तो ख़ासकर लेटने से बचें, क्योंकि ऐसा करना पेट में पाचन रसायनों को एक ही जगह स्थिर बना देता हैं जिसके कारण हार्टबर्न और अपच जैसी समस्या और अधिक बढ़ जाती हैं



पीठ में दर्द


इस प्रेगनेंसी के सिंप्टम्स से बचने के लिए आप कोशिश करें- अपने लिए एक सपोर्टिव चेयर और गद्दा रखने की जिससे आप खुदको टिका सके। खासकर अपने पोस्चर को सीधा रखने पर ज्यादा ध्यान दें।




सत्तरह सप्ताह गर्भावस्था में पेट निकलना | Pregnant belly at 17 week pregnancy in hindi



17 सप्ताह में गर्भवती का शरीर, जो पहले ही आकार में बड़ा होते जा रहा होता है अब तो कुछ महिलाएं अपने बढ़ते पेट को छिपाने में भी असमर्थ होंगी। गर्भ में शिशु भी खुद को मजबूत बना रहा होता है तथा आप 1 से 2 पाउंड प्रति सप्ताह के दर से भी वजन बढ़ा रही होंगी (अगर आप जुड़वां बच्चो से गर्भवती होंगी तो भी सामान्य रूप से ही वजन गेन करेंगी लगभग बीस सप्ताह तक)

चाहे तो आप अपने 17 वीक प्रेगनेंसी को डॉक्यूमेंट कर सकती हैं बहुत सारे फोटोस से, एक दिन ऐसा होगा आप इन तस्वीरों को देखकर इस समय को याद करेंगी और ये आपको जानने में भी मदद करेगा कि आपकी बॉडी कैसे चेंज हो रही है



सत्तरह सप्ताह गर्भावस्था में अल्ट्रासाउंड | Ultrasound 17 week pregnancy in hindi



शिशु के लचीले कार्टिलेज अब मजबूत हड्डियों में विकसित होने लगे हैं इन्हीं पर शिशु अपने शरीर का विकास भी करता है। उसके शरीर में फैट परसेंट भी बढ़ने लगा हैं मतलब की शिशु मेच्योर होने लगा हैं।

सत्तरह सप्ताह गर्भावस्था अल्ट्रासाउंड हो सकता हैं अगर आपने कार्डोसिंथेसिस कराने का फैसला किया है इस प्रोसीजर गर्भनाल के रक्त जांच कर शिशु में किसी प्रकार के क्रोमोसोमल एब्नार्मेलिटीज का पता लगाया जाता है

डॉक्टर इसमें अल्ट्रासाउंड का उपयोग कर उस जगह की खोज करते हैं जहां गर्भनाल और प्लेजेंटा मिलते है। इसी जगह से ब्लड सैंपल लिया जाता हैं। आमतौर पर इस टेस्ट को 17 सप्ताह के बाद ही किया जाता है इसे तब किया जाता है जब एम्नियोसिंथेसिस रिजल्ट से आप और आपके पार्टनर दुविधा में पड़ जाएं तथा शिशु के स्वास्थ्य के बारे में अधिक जानना चाहते हों

एनाटॉमी स्कैन या लेवल 2 अल्ट्रासाउंड 15 से 20 सप्ताह के बीच हो सकता है



गर्भावस्था में याद रखने वाली चीजें - 17 week pregnancy checklist

  • अपने निरीक्षक को दिखने वाले लक्षणों के बारे बताएं जैसे - नेसल कॉग्नेशन
  • बढ़ते पेट को सपोर्ट करने के लिए "बैली बैंड" इस्तेमाल करें
  • अपने पार्टनर को हर बात शेयर करे
  • रोज एक्सरसाइज करें और अधिक से अधिक पानी पिए



गर्भावस्था सत्तरह सप्ताह केयर टिप्स | Self care tips 17 week pregnancy in hindi



योनि स्राव से छुटकारा पाएं


योनि स्राव का होना कोई मजाक नहीं है लेकिन इसका असुविधापूर्ण रूप से होना भी ठीक नहीं, इसलिए जरुरी हैं आप इसका खास ध्यान रखें - हवादार, कॉटन अंडरगारमेंट का उपयोग करें जिससे आप ठंडे और सूखे रहें। अगर आप ज्यादा प्रोटेक्शन चाहते हैं तो अनसेंटेड पेंटीलाइनर का उपयोग कर सकते हैं


ब्रेस्ट का बढ़ना सामान्य


स्तनों में दूध बनने की शुरुआत और प्रेगनेंसी हार्मोन के प्रभाव सभी शिशु को पोषित करने के लिए है प्रेगनेंसी रक्त स्तर का बढ़ना भी स्तनों के बढ़ने का एक कारण होता है।

वैसे सभी का शरीर अलग है प्रेगनेंसी भी अलग है इसलिए सभी को मिलने वाले प्रेगनेंसी सिंप्टम्स भी भिन्न रुप से दिखते हैं जिसमें से एक लक्षण स्तनों का बढ़ना है जो कि गर्भावस्था में पूरी तरह समान्य है।



नितंब तंत्रिकाओं में दर्द से आराम


नितंब तंत्रिका शरीर के निचले हिस्से में फैले होते हैं जो आपके लोअर बैक से होते हुए पूरे पैरों, एकल और तलवों में लगे होते हैं।

ज्यादातर केसो में इनमें आपको दर्द, झुनझुनी महसूस हो सकतीं है जो नितंब से शुरू होकर पूरे पैरों तक महसूस होगें, यह तब और आसानी से पता चलने लगता है जब इसमें किसी प्रकार से दबाव हो, आराम के लिए आप बैक स्ट्रैच, वॉर्म पैड का सहारा ले सकती है।



दातों में दर्द का इलाज


प्रेगनेंसी हार्मोन प्रभाव के कारण ही दांत कमजोर होने लगते हैं इसे भी आप प्रेगनेंसी की ही निशानी समझे, जो आपके दांतो को कमजोर बना रहे होते हैं कई बार तो ये बाहर भी निकल आते है। हालांकि, इस तरह की समस्या से आपको जन्म के बाद ही राहत देखने को मिलेंगा।



कैल्शियम की सही मात्रा ले


देखिए… यदि आप कैल्शियम डेयरी प्रोडक्ट जैसे दूध से नहीं लेना चाहती तो कोई बात नहीं आपके पास और भी रास्ते है। जिनसे आप इसकी कमी को पूरा कर सकती है।

कैल्शियम से भरपूर ऑरेंज जूस या कोई अन्य दूसरा जूस पिए, नॉन डेयरी कैलशियम सोर्स - हरे पत्तेदार सब्जियां, शीशम सीड, बदाम, सोया प्रोडक्ट में भी आपको कैल्शियम मिल जाएगा।


त्वचा के अनोखे बदलाव


अब तो पेट पर लाईने, चेहरे पर दाने और हाथों में दाने देखने लगी होंगी, हालंकि, आपको किसी dermatologist के पास जाने की जरूरत नहीं, इस तरह के त्वचा में बदलाव प्रेगनेंसी में सामान्य है।

इसकेलिए आप प्रेगनेंसी हार्मोन्स को दोष दे सकती है। लेकिन आपको सीधे धूप में निकलने से बचना चाहिए ये स्किन को डैमेज कर सकते है। आप एक अच्छा सनस्क्रीन लगाये जब भी बाहर को निकले।

त्वचा से निकलने वाली चीजों को अपने डॉक्टर को दिखा सकती है उनसे कुछ छुपाना अच्छी बात नहीं होगी।



मैनेज बैक पेन


पीठ में होने वाला दर्द भी आपको परेशान कर सकता हैं इसलिए आपको ज्यादा समय सोफे पर पड़े नहीं रहना हैं आप सामान्य योगा पोस्चर ट्राई कर सकते हैं। खुद को स्ट्रेच करना स्पाइन को लूज और उनसे टेंशन रिलीज करता हैं जो बैक पेन का कारण बन रहे होते हैं।

आप बैक एक्सरसाइज भी कर सकती है अपने एब्डोमिनल मसल्स को स्ट्रेच करने के लिए भी एक्सरसाइज करें, यह आपके लोअर बैक पर बढ़ने वाले भार को कम करेगा। लेकिन पीठ के बल लेटकर कसरत करने से बचें, याद रखीये आप दूसरी तिमाही में पहुंच चुकी है।



अम्बलाइकल कॉर्ड और प्लेसेंटा


गर्भनाल और प्लेसेंटा मजबूत बन रहे हैं। गर्भनाल मोटा होने लगा हैं जिससे शिशु को पोषित किया जा सके। प्लेसेंटा के बढ़ने से शिशु को ऑक्सीजन और न्यूट्रिएंट उचित मात्रा में मिलने लगा है।


पीठ दर्द से छुटकारा कैसे पाएं?

  • एक्सरसाइज और स्ट्रेच
  • ज्यादा देर तक खड़े ना रहें
  • बैली सपोर्ट बैंड पहने
  • चीजों को पैरों से उठाए 
  • सपोर्टिव जूते पहने


राउंड लिग्मेंट पेन


राउंड लिग्मेंट पेन से आराम पाने के लिए आप कोशिश करें कुछ देर खुद को आराम देने की, एक्सरसाइज की इंटेंसिटी भी कम रखे, आप सपोर्टिव बैंड भी यूज कर सकती है।



सत्तरह सप्ताह के लिए प्रेगनेंसी डाइट


यदि आप वेजीटेरियन है तो आपको जरूरी पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, विटामिन बी12, कैल्शियम, विटामिन डी, डीएचए, आयरन और फोलेट की उचित मात्रा लेना आवश्यक हैं 

  • प्रोटीन युक्त भोजन खाए - जैसे नाइट्स, मूंगफली, दाल
  • यदि आप दूध नहीं पीना चाहती, तो आप दही का सेवन करें 
  • हरी सब्जियां खाये, रेशेदार फल और सब्जियां जरूर सेवन करे



FAQ. प्रेगनेंसी में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के उत्तर



क्या प्रेगनेंसी में सेक्स कर सकते हैं?

जी हां..., प्रेगनेंसी में संभोग करना पूरी तरह सुरक्षित हैं व इससे शिशु को कोई नुक्सान नहीं होता है, बल्कि शिशु को इन सबका कुछ पता ही नहीं होता 


प्रेगनेंसी में कौन सी गलतियां ना करें?

प्रेगनेंसी में नशीले पदार्थों के सेवन से दूर रहें, ऐसे कार्यों को न करें जिसमें अत्याधिक शारीरिक कसरत की जरूरत हो


प्रेगनेंसी में क्या करना चाहिए?

एक प्रेगनेंसी बहुत से उतार चढ़ावो से भरा होता है इसलिए आपको एक हेल्दी लाइफ स्टाइल अपनाने की जरूरत है, अपने पार्टनर, परिवारजनों और दोस्तों के साथ समय व्यतीत करें



Hindiram के कुछ शब्द

17 week pregnancy in hindi : प्रेगनेंसी का ये सप्ताह गर्भवती और शिशु दोनों के लिए अनेकों बदलाव लेकर आता है लेकिन अभी सबसे जरूरी होगा आप खुद का और शिशु का ख्याल रखें, हेल्दी डाइट ले, और अधिक से अधिक पानी पिए, यदि आपको किसी प्रकार की शंशा हैं तो अपने निरीक्षक से परामर्श कर सकते हैं

एक टिप्पणी भेजें

Post a Comment (0)

और नया पुराने