गर्भवास्था 17 वा सप्ताह | 17 week pregnancy in hindi

इस हफ्ते - 17 week pregnancy क्या-क्या होगा




17 वीक प्रेगनेंसी में आपका शिशु खुद के शरीर में फैट बढ़ाने लगता हैं। मतलब कि शिशु अब लगभग 13 cm तक बढ़ गया है उसका वजन भी 0.14 kg बढ़ गया है।


अब तो शिशु आपको सुनने भी लगा है और उसने अपनी सबसे बुरी हरकत भी शुरू कर दी है।



17 week pregnancy मतलब - 4 महीना

Second trimester मतलब - दूसरी तिमाही

23 weeks left मतलब - 23 सप्ताह बचे



शिशु का विकास | baby development 17 week pregnancy in hindi


17-week-pregnancy-in-hindi


  • शिशु अभी कुछ खा अथवा पी तो नहीं सकता, लेकिन ये दूध पीने के लिए खुद को तैयार कर रहा हैं। इसने अपने अंगूठे चूसने वाली हरकत भी शुरू कर दी है। 
  • शिशु अब आपकी आवाज भी सुन सकता हैं इस सप्ताह इसके कानो में बहुत बढ़ा बदलाव आ रहा है। 
  • शिशु की त्वाचा में अब फैट जमा होने लगा जो इसे गर्मी और एनर्जी दोनों प्रदान करता है।



 अंगूठा चूसने वाली हरकत


आप जानते हो आपका शिशु कितना बढ़ा हो गया, यह आपके हथेली के बराबर साइज अर्थात इसकी लंबाई 5 इंच और वजन 5 से 6 आउंस हों गया है।


शिशु का शरीर अब बॉडी फैट भी स्टोर करने लगा है, जो इसके जन्म तक चलता रहेगा।


क्योंकि practice makes perfect अतः आपके शिशु ने अभी से अपने अंगूठे चूसने वाली हरकत की भी शुरू कर दिया है।


फिंगरप्रिंट बनने लगे


अगर आप जानना चाहे, शिशु हममें से एक है या नहीं? अगले हफ्ते आप उसके हाथ और पैरों के निशान ले क्योंकि इस सप्ताह उसके अनोखे फिंगरप्रिंट हाथ और पैरों में बनने लगे हैं।



आपका शरीर 17 week pregnancy में


बढ़ते पेट को छूने वाले


क्योंकि अब आपका पेट भी दिखने लगा है इसलिए आपके दोस्त, फैमिली मेंबर्स, बच्चे आपके बढ़ते पेट को बार बार छूने का भी प्रयास करेंगी।


यदि आपको इससे कुछ ऐतराज नहीं तो ठीक है नहीं तो आपको उन्हें साफ मना कर सकती हैं। इस सप्ताह कुछ शारीरिक बदलाव से वेजाइनल डिसचार्ज Leukorrhea और सेंसटिविट तथा एलर्जी भी सामान्य रूप से देखने की मिलेगा।



आपकी बढ़ती भूख


याद करिए पीछले तिमाही उल्टी और पेट ऐठन के कारण आपको खाने को दिल नहीं करता था। साथ ही बार बार टॉयलेट जाने से भी आप परेशान रहती थी। लेकिन अब वह समय गया।


दूसरी तिमाही ना सिर्फ महिलाओं को राहत की सांस लेने में मदद करती बल्कि उनकी भूख को भी बढ़ा देती है। इसलिए ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं आप अब अपना वजन बढ़ाने की तैयारी करे।


क्या आप जानना नहीं चाहेंगे आपके बढ़ती भूख के पीछे किसका हाथ है? आपका बढ़ रह रहे बेबी का जो हर रोज ग्रो कर रहा है। उसकी भूख भी बढ़ रही है। वैसे तो आप अनुमान नहीं लगा सकती आपका पेट कितना बड़ा होगा। लेकिन आप अपने निरीक्षक से कितना हेल्दी वेट गेन करना चाहिए पूछ सकती है।



खर्राटे लेना


प्रेगनेंसी का यह सिंप्टम्स जो मानो पीछा ही नहीं छोड़ना चाहता। वैसे यह भी प्रेगनेंसी के बाद चला जाएगा। ये आपके प्रेगनेंसी हार्मोन के कारण नाक में परिवर्तन आने से हुए है।


अभी के लिए आप अपने कमरे में humidifier रखें, जब आप सोने जाए तो नेसल स्ट्रिप का प्रयोग अपने बंद नाक को खोलने में कर सकती है। साथ ही अपने लिए तकिये का प्रयोग करे।


गर्भावस्था के लक्षण 17 सप्ताह | 17 week pregnancy in hindi


बढ़ती भूख


इस हफ्ते आपको लगेगा आपकी भूख तो रुक ही नहीं रही, क्योंकि आपका शिशु भी बढ़ रहा हैं। साथ ही उसके न्यूट्रिएंट डिमांड भी इसलिए आपको हेल्दी खाने के ऊपर ज्यादा ध्यान देना चहिए।


स्ट्रेच मार्क्स


वैसे यह निशान ही तो प्रेगनेंसी की निशानी है। यदि आपमें स्ट्रेच मार्क्स आए तो इसका मतलब यह है कि आपके मां को भी आए थे। वैसे स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए आपको धीरे धीरे वेट गेन करना चाहिए। यह आपके मसल्स स्ट्रैच होने से रोकता जिससे स्ट्रैच मार्क्स भी कम होते है।



अचानक सर दर्द


चाहें आपके सर दर्द के पीछे कोई भी कारण रहे - प्रेगनेंसी हार्मोन, टेंशन, यह होना बिल्कुल सामान्य है। वैसे आप चाहे तो actaminophen ले सकती है। लेकिन अपने निरीक्षक से सलाह जरूर लें



चक्कर और बेहोशी



शरीर में पानी की कमी भी चक्कर आने का कारण बनता इसलिए आप कोशिश करें खुद को हाइड्रेट रखने की - कम से कम 8 से 10 गिलास पानी तो आपको जरूर पीना चाहिए। आप ज्यादा भी पी सकती है।



हार्टबर्न और अपच


अगर आपको कुछ खाने के बाद लगे कि आपके सीने में जलन हो रही है तो आपको ख़ासकर लेटने से बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करना पाचन रसायनों को उनकी जगह पर स्थिर कर देगा। जिससे समस्या और अधिक बढ़ जाएगी।



पीठ में दर्द


इस प्रेगनेंसी सिंप्टम्स से बचने के लिए आप कोशिश करें- अपने लिए एक सपोर्टिव चेयर और गद्दा रखने की जिससे आप खुदको उसमे टिका सके। खासकर अपने पोस्चर को सीधा रखने पर ध्यान दें।



सेल्फ केयर टिप्स | self care tips 17 week pregnancy in hindi



ब्रेस्ट का बढ़ना सामान्य


शरीर में दूध बनना और प्रेगनेंसी हार्मोन सभी शिशु को पोषित करने के लिए है। प्रेगनेंसी में होने वाले बदलाव तथा रक्त स्तर का बढ़ना ही आपके ब्रेस्ट बढ़ने का कारण है।


वैसे सभी गर्भवतियां अलग-अलग रहती, इसलिए उन सभी को मिलने वाले प्रेगनेंसी सिंप्टम्स भी भिन्न रहते है। लेकिन बेस्ट का बढ़ाना सभी में समान रहता।



 नितंब तंत्रिका में दर्द 


नितंब तंत्रिका शरीर के निचले हिस्से में फैले होते हैं जो आपके लोअर बैक से होते हुए पूरे पैरों, अंकल और तलवों में लगे रहते हैं।


ज्यादातर केस में आपको दर्द, झुनझुनी महसूस हो सकतीं है। जो आपके नितंब से शुरू होकर आपके पूरे पैरों को महसूस होते हैं। यह तब और आसानी से पता चलता है जब इसमें दबाव हो,आराम के लिए आप बैक स्ट्रैच, या गर्म पैड का सहारा ले सकती है।



दातों में बदलाव


कमजोर दांत होना आपके प्रेगनेंसी हार्मोन के प्रभाव की निशानी है जो आपके दांतो को ढीला कर देता है। कई बार तो ये बाहर भी निकल आते है। हालांकि, इस तरह की समस्या से आपको जन्म के बाद ही राहत देखने को मिलेंगी।


कैल्शियम ले


देखिए… यदि आप कैल्शियम डेयरी प्रोडक्ट जैसे दूध से नहीं लेना चाहती तो कोई बात नहीं आपके पास और भी रास्ते है। जिनसे आप इसकी मात्रा पूरी कर सकती है।


कैल्शियम से भरपूर ऑरेंज जूस या दूसरी जूस पिए, नान डेयरी कैलशियम सोर्स - हरे पत्तेदार सब्जियां, शीशम सीड, बदाम, सोया प्रोडक्ट में भी आपको कैल्शियम मिल जाएगा।


त्वचा के अनोखे बदलाव


शायद आपकी लोअर बैली में लाईनिंग, चेहरे पर दाने, हाथों में डॉट्स । हालंकि, आपको dermatologist के पास जाने की जरूरत नहीं, ये त्वचा के अनोखे बदलाव प्रेगनेंसी में सामान्य है।


इसकेलिए आप प्रेगनेंसी हार्मोन्स को दोष दे सकती है। लेकिन आपको सीधे धूप में निकलने से बचना चाहिए ये स्किन को डैमेज कर सकता है। आप एक अच्छा सनस्क्रीन लगाये जब भी बाहर को निकले।


त्वचा से निकलने वाली चीजों को अपने डॉक्टर को दिखा सकती है उनसे कुछ छुपाना अच्छी बात नहीं होगी।



मैनेज बैक पेन



पीठ में होने वाले दर्द आपको परेशान कर सकते हैं इसलिए आपको सोफे में पड़े रहने से बचना चाहिए। आप कोई सामान्य योगा पोस्टर ट्राई कर सकती हैं। स्ट्रीच करना आपके स्पाइन को लूज और उनसे टेंशन रिलीज कर देता हैं जो बैक पेन का कारण बनता हैं।


आप बैक एक्सरसाइज कर सकती है तथा अपनी एब्डोमिनल मसल्स को स्ट्रेच करने के लिए भी एक्सरसाइज कर सकते हैं।


जो आपके लोअर बैक पर बढ़ने वाले भार को भी कम करेगा। लेकिन अपनी पीठ पर लेटकर कसरत नहीं करनी, क्योंकि याद रखीये आप दूसरी तिमाही में है।



अम्बलाइकल कॉर्ड और प्लेसेंटा


गर्भनाल और प्लेसेंटा मजबूत बन रहे हैं। गर्भनाल मोटा हो रहा जिससे शिशु की पोषित किया जा सके। प्लेसेंटा के बढ़ने से शिशु में ऑक्सीजन और न्यूट्रिएंट की सप्लाई बढ़ती है।


डीलिंग विद बैक पेन


  • एक्सरसाइज और स्ट्रेच
  • ज्यादा देर तक खड़े हैं ना
  • बैली बैंड बेल्ट पहने
  • चीजों को पैरों से उठाए ना कि
  • सपोर्टिव जूते ही पहने



राउंड लिग्मेंट पेन


आपका गर्भाशय एक मोटे बैंड से सपोर्ट रहता जो आपके एब्डोमिनल के दोनों साइड लगा रहता है। जैसे प्रेगनेंसी में गर्भाशय बढ़ता है ये बैंड स्ट्रैच हो कर पतला हो जाता, जिससे आपको इनमें दर्द का एहसास होने लगता हैं।


राउंड लिग्मेंट पेन से आराम पाने के लिए आप कोशिश करें कुछ देर अपने पैरों को आराम देने की। एक्सरसाइज करने की इंटेंसिटी भी कम रखे, आप सपोर्टिव बैंड भी यूज कर सकती है।


HINDIRAM की कुछ बाते 


17 week pregnancy in hindi - इस सप्ताह बहुत से बदलाव हुए है लेकिन अभी pregnant women को अनेकों बदलाव का सामना करना है। इस लिए अपना ध्यान जरूर रखें

और नया पुराने