शादी से पहले शारीरिक संबंध बनाने से क्या होगा - भूलकर न बनाए शारीरिक संबंध | shadi se pehle sharirk sambandh banane ke fayde

रिलेशनशिप क्या होता हैं? मात्र गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड को Relationship समझना आज के युवकों के लिए कोई बड़ी बात नहीं है मतलब की बात यहां तक बढ़ जाती है कि शादी से पहले शारीरिक संबंध (physical relationship) तक बन जाया करते हैं



जाहिर सी बात है शादी से पहले शारिरिक संबंध स्थापित करना (physical relationship) आज के युवक और युवतियां के लिए कोई बड़ी बात नहीं है वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो शादी से पहले शारीरिक संबंध बनाने का सख्त 
विरोध करते हैं उनके अनुसार शादी से पहले शारीरिक पाप है


यहां कोई गलत कोई सही नहीं है...! सभी अपनी जगह उचित है। शादी से पहले शारीरिक संबंध बनाने को अगर हम वैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखे तो संबंध बनाने (physical relationship) के फायदे अनेकों हैं। मगर कुछ लोग इन सभी से बस दूर रहना ही उचित समझते है


चलिए इस लेख के माध्यम से हम और आप यह जानने का प्रयास करते हैं shadi se pehle kya karna chahiye अगर हां तो क्यों और नहीं तो क्यों, physical relationship meaning in hindi



शादी से पहले शारीरिक संबंध का महत्व - physical relationship means in hindi. Relationship kya hota hai


शादी-से-पहले-शारीरिक-संबंध-के-फायदे


संभोग और कामवासना मानव जीवन से अलग नहीं है प्रजनन से हटकर यौन क्रियाएं तन्मयता और संतोष का मार्ग प्रशस्त करती हैं।

यौन क्रिया चाहें लिंग - योनी से हो या हस्थमैथुन, दोनों ही रूपों में physical relationship ke fayde होते हैं -

  • शारीरिक फायदे होगें
  • मानसिक फायदे होगें
  • दिमागी फायदे होगें
  • मनोवैज्ञानिक फायदे होगें
  • समाजिक फायदे होगें


कैसे पता लगाया जाए कि किसी लड़के ने शादी से पहले संबंध (physical relation in hindi) या कैसे पता लगाया जाए कि किसी ladki ने शादी से पहले


शादी के बाद physical hona कपल्स के लिए कोई बड़ी बात नहीं, हालंकि, पहली बार शारीरिक संबंध बनाने के बाद लड़कियों को कैसे लगता हैं बात अगर लड़के की हो,

पहली बार शारीरिक संबंध बनाने के बाद लड़के को कैसे लगता है यकीनन दोनों के लिए ही अनुभव physical relationship के बाद अविस्मरणीय होते हैं।

सबसे पहले तो यह पता लगाना, किसी लड़के अथवा ladki ने शादी से पहले संबंध बनाया है या नहीं, जानना बहुत कठीन है जब तक वे इस बात को खुद ना बता दे...


मगर कुछ biological factors है जो कुछ हद तक यह जानने में मदद कर सकते है किसी लड़के अथवा ladki ने शादी से पहले संबंध बनाया है या नहीं…


पुरूषों में शादी से पहले शारिरिक संबंध के लक्षण - sign of physical relationship in male before marriage



लिंग का सिर जिस कोशिका से ढका रहता हैं बिना रुकावट के यदि वह पीछे की ओर खींच जाए ये संकते है पुरुष शारिरिक संबंध बना चुका है।

हालांकि, इसे पुरी तरह सटीक नहीं माना जा सकता, जन्म उपरान्त सभी लड़कों में, लिंग का सिर कोशिका परत से ढका रहता है तथा कुछ हिस्सा चिपका भी रहता है। जो physical relation बनाने के समय घर्षण से छूटता है।

अधिकांशत: पुरुषों मे यह चिपका हुआ हिस्सा physical relation से ही निकलता है मगर ऐसा होने के अन्य कारण भी हो सकते है।



महिलाओं में शादी से पहले शारिरिक संबंध के लक्षण - sign of physical relationship in female before marriage



कुछ लोगों का मनाना है योनि का टाइट होना, मतलब संभोग के समय यदि महिला की योनि टाइट लगे तो यह एक संकेत रहता महिला ने physical relation नहीं बनाया है।

मगर ये बस एक factor है जो हमेशा सही नहीं होगा, क्युकी महिलाओं की योनि जिस फ्लूइड की वजह से टाइट रहती है वह बहुत से कारणों से निकल भी जाती है। 

इसलिए इन चीजों का पता लगना बहुत कठीन रहता हैं जब तक वह लड़का या लड़की खुद ही ना बता दे... लड़कियां इमोशन ज्यादा अच्छे से महसूस कर सकती है इसलिए पहली बार शारीरिक संबंध बनाने के बाद लड़कियों को बहुत से चीजों की टेंशन होने लगती है। जैसे - 

  • फिजिकल रिलेशन बनाकर गलत तो नहीं किया
  • फिजिकल रिलेशन बनाकर सही किया गलत
  • क्या होगा अगर उनका पार्टनर धोखा दे दे
  • कहीं वो प्रेगनेंट तो नहीं होंगी
  • घर में पता चल गया तो


वहीं लड़को को इस तरह की टेंशन नहीं होती, लड़के होने के नाते आपको अपने पार्टनर की मदद करनी चाहिए…



शादी से पहले शारीरिक संबंध के फायदे - physical relationship ke fayde in hindi




शादी से पहले शारीरिक संबंध से होने वाले शारीरिक लाभ | शारीरिक संबंध के फायदे | physical benefits of physical relationship



वैज्ञानिक परीक्षणों में पता चला कि संभोग बहुत अच्छा कार्डियोवैस्कुलर एक्सरसाइज होता है खासकर जवान पुरुषों और महिलाओं के लिए, हालांकि, ये लाइट एक्सरसाइज है।

संभोग से होने वाले शारीरिक लाभ...

  • ब्लड प्रेशर कम करता
  • कैलोरी बर्न करता
  • हार्ट हेल्थ बढ़ात
  • मसल्स रिलैक्स करता
  • रिस्क आफ हार्ट डिजीज कम
  • स्ट्रोक, हाइपरटेंशन कम करता
  • इनक्रीस लाईबिडो

शारीरिक कसरत करना संभोग की क्षमता बढ़ाता है इसलिए जो लोग यौनरूप से सक्रिय रहते उन्हे एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए... 



इम्यून सिस्टम मजबूत करता - boost immune system



रोमांटिक कपल्स पर हुए शोध में यह सामने आया, जो लोग हफ्ते में एक से दो बार संभोग करते उन्में इम्यूनोग्लोबुलीन ए ( IgA ) मात्रा सलाइवा में अधिक पाया गया।

IgA एक एंटीबॉडी है जो बीमारियों को दूर करने में अहम भूमिका निभाता है। Human papilloma virus से लड़ने में मदद करता हैं।


अच्छी नींद - better sleep


संभोग के बाद शरीर ऑक्सीटॉसिन रिलीज करता है जिसे लव हार्मोन कहते तथा ऑर्गेज्म के समय endorphin रिलीज करता यहीं नींद लाने का कार्य करता हैं। 

अच्छी नींद लेने से -

  • स्ट्रांग इम्यून
  • लॉन्ग लाइफस्पैन
  • फीलिंग मोर वेल-रेस्टेड
  • हैविंग मोर एनर्जी ड्यूरिंग द डे


सर दर्द में राहत पहुंचाता - reduce migraine



कुछ शोधों में यह भी सामने आया यौन क्रियाएं थोड़ा या पूरी तरह माइग्रेन और सिरदर्द में राहत पहुंचाता हैं...

लोग जो यौन क्रियाओं में सक्रिय रहते...

  • 60% माइग्रेन के समय इंप्रूवमेंट
  • 70% थोड़ा या पूरी तरह माइग्रेन से आराम
  • 37% अचानक हुए सर दर्द में इंप्रूवमेंट
  • 91% थोड़ा या पूरी तरह सर दर्द से आराम

कामवासना शांत होती - lower sexual urges


आज के बदलते युग में जहां लोग सेक्शुअली एक्टिव हो चुके हैं, ना चाहते हुए भी लोगों में कामेच्छा तीव्र होती जा रही है।

ऐसे में विवाह तक का इंतजार करना उनके अंदर कामवासना की भावना बढ़ा सकता हैं। जो शायद खतरनाक भी हों, इसलिए शादी से पहले शारीरिक संबंध उनकी कामेच्छा को तीव्र होने से बचाता है।


मन के विचार - control thoughts


मन पर तो हमारा बस नहीं, यह जब चाहे कुछ भी परिकल्पित कर सकता हैं। लेकिन अक्सर देखा जाता है जिन चीजों की हमें कमी रहतीं मन में विचार भी उसी तरह के आते हैं।

मतलब यदि आपके मन में विचार कामवासना से भरपूर आते हैं तो हो सकता है आपको इसकी जरूरत हो, इसलिए विवाह पूर्व शारीरिक संबंध स्थापित करना आपकी इसमें काफी मदद कर सकता है।


डर खत्म - remove fear of physical relationship


शारीरिक संबंध स्थापित करना अपने आप में संवेदनशील मामला होता है जिसमें झिझक होना सामान्य रहता है।

शादी से पहले यदि आपने ऐसा कुछ नहीं किया होगा तो एक डर सा लगा रहता है लेकिन जब आप शादी से पहले ही शारीरिक रुप से जुड़ चुके हो, इससे आपके मन का डर निकल जाता हैं।



मानसिक जरूरत पूरी होती - fullfil mental desire


आज के इस थकान भरे व्यस्त जीवन में लोग मानसिक रूप से इतने तनावग्रस्त रहते हैं कि वह इसके चलते अनेकों बीमारियों का शिकार हो रहे हैं।

संभोग करना शरीर में अच्छे हार्मोन जैसे - एंडोर्फिन का स्त्राव कराता है जो हमें मानसिक तनाव से भी छुटकारा दिलाने में मदद करता हैं।



सेक्स बेनिफिट टू ऑल जेंडर | Physical relationship Benifits to all gender . Physical relationship means in hindi

 

आदमियों को शारीरिक संबंध के लाभ - Physical relationship in hindi benefits



हाल ही में हुए एक शोध जिसमें में पता चलता है, पुरुष जो फ्रिक्वेंट सेक्स करते हैं उनमें प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना बहुत कम होती है।

शोध में यह भी पता चला जो पुरूष हफ्ते में चार से सात बार इजेकुलेट करते हैं उनमें 36% प्रोस्टेट कैंसर आने के कम चांस होते हैं।

पुरुषों में सेक्स उनकी मॉर्तलिटी को भी अफेक्ट करता हैं। एक परीक्षण जिसमें 10 सालों के शोधों को जांचा गया, इसमें पता चला कि जो पुरुष फ्रिक्वेंट ऑर्गेज्म लेते उन्में 50% lower mortality rate पाया गया।


महिलाओं को शारीरिक संबंध के लाभ - Physical relationship in hindi benefits



ऑर्गेज्म होना ब्लड फ्लो को बढ़ा देता है ये नेचुरल पेन रिलीफ केमिकल भी रिलीज करता हैं।

यौन क्रियाएं महिलाओं में...

  • इंप्रूव ब्लैडर कंट्रोल
  • रिड्यूस इनकंटीन्यूअस
  • रिलीव मेस्टुरालर प्री-मेस्टुराल क्रैंप्स
  • इंप्रूव फर्टिलिटी
  • बिल्ड स्ट्रांग पेल्विस मसल
  • हेल्प प्रोड्यूस मोर वेजाइनल लुब्रिकेशन


यौन क्रियाएं पेल्विक फ्लोर मसल्स को स्ट्रेच करते हैं। इससे सेक्स के समय कम दर्द तथा वेजाइनल प्रोलैप्स के चांस को भी कम करता हैं।



हस्तमैथुन के लाभ | benifits of masturbation



हस्तमैथुन भी संभोग की तरह अनेकों फायदे पहुंचाता हैं। लेकिन इसके अपने ही फायदे होते हैं जैसे - 

  • साथी के साथ संभोग अवधि बढ़ान
  • खुद के शरीर को समझना
  • ऑर्गेज्म की एबिलिटी बढ़ाता
  • सेल्फ एस्टीम बढ़ाता
  • सेक्सुअल सेटिस्फेक्शन बढ़ाता
  • सेक्सुअल डिस्फंक्शन से बचाता


हस्तमैथुन पूरी तरह सेफ है इसमें ज्यादा हैल्थ रिस्क भी नहीं, खासकर जब अकेले में किया जाए। इससे प्रेगनेंसी और सेक्सुअल ट्रांसमिटेड इनफेक्शन का खतरा भी नहीं होता तथा मेंटल वेलबिंग को भी इंक्रीज करता है 



क्यों ना बनाएं शादी से पहले शारीरिक संबंध | शादी से पहले शारीरिक संबंध के नुकसान - Physical relationship meaning in hindi



पछतावे की भावना - regrating


बहुत से लोग होते हैं जो रिलेशनशिप में रहते हुए अपने रिश्ते को गहरा बनाने के लिए शारीरिक संबंध स्थापित कर लेते हैं। दुर्भाग्यवश, यदि आगे चलकर उनका रिश्ता आगे ना बढ़ पाए या टूट जाए तो मन में एक पछतावे की भावना रह जाती है


चरित्र पर दाग - character galat banana


यदि आपने किसी से शारीरिक संबंध बनाया है और यदी यह बात लोगों में पता चल जाय तो लोग आपको गलत नजरों से देखते हैं खासकर महिलाओं को इस तरह के फैसले लेने से पूर्व अच्छे से सोचना चाहिए।


गर्भधारण का खतरा - pregnancy


शादी से पहले यदि आप असुरक्षित यौन संबंध बनाते हैं तो अधिक आशंका रहती, महिला गर्भ धारण कर ले। और शादी से पहले इस तरह की चीजों को हमारे समाज में कभी स्वीकार नहीं जाता इसलिए इसका भी ख्याल रखना जरूरी है।


धर्मों के खिलाफ - religious restrictions


कुछ धर्मों में शादी से पहले संबंध बनाने को उनके धर्म के खिलाफ माना जाता है उनके हिसाब से ऐसा करना उनके मर्यादा के खिलाफ है यदि आपके धर्म मे भी ऐसा कुछ है तो आपको इसका खयाल रखना चाहिए।



शारीरिक संबंध: आध्यात्मिक पहलू | physical relationship and spirituality



अब तक तो हमने शादी से पहले संबंध बनाने के फायदे तथा नुकसान के विषय में जाना, लेकिन कहीं ना कहीं इन दोनो में ही कमी दिखाई पड़ती हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं एक दूसरा पहलू भी है जो हमारे प्रश्न का हल दे सकता है जो शायद आपको भी जानना चाहिए

यह पहलू हमारे आध्यात्मिक जीवन से जुड़ा है।

यहां बात हम आध्यात्मिकता की कर रहे हैं जिसका मूल लक्ष्य स्थूल देह से सूक्ष्म शरीर को स्वतंत्र करना, तथा इसे सांसारिक और भौतिकता से आध्यात्मिकता की ओर ले जाना होता हैं।

ऐसा करने के लिए हमें काम, क्रोध, मोह, लोभ, ईर्ष्या, घृणा और अहंकार से मुक्त होना होता हैं। अर्थात हमें कामवासना से भी ऊपर उठना होगा।

अपनी काम ऊर्जा को आध्यात्मिक ऊर्जा में रूपांतरित करना होगा।

लेकिन सवाल आता है कैसे ?

यदि आप पुरुष हैं तो वीर्य रक्षा करके और महिला है तो ओज रक्षा करके, क्या आप जानते हैं वीर्य में इतनी शक्ति होती है कि वह एक नया जीवन विकसित कर सकता हैं।

लेकिन कामवासना में यही ऊर्जा व्यर्थ हो जाती हैं। जब आप इसे अध्यात्मिकता की ओर रूपांतरित करते हैं आप स्वयं को सांसारिक सुख से परे ले जाते हैं।

शायद इसी वजह से जितने भी महान पुरुष इस धरती पर अवतरित हुए सभी ने ब्रह्मचर्य का पालन किया और अपने कामउर्जा को स्वयं के विकास में लगाया

कामवासना से आपको कुछ समय के लिए तो संतोष की प्राप्ति हो जाएगी, लेकिन यह आपको कामवासना में लिप्त भी बना देगा। 

परंतु आप चाहे जितना भी संभोग कर ले आपको कभी भी परमानंद की प्राप्ति नहीं हो पाएगी। आध्यात्मिक जीवन में उन्नति से आप उस परमानंद को प्राप्त कर सकते हैं जिसे प्राप्त करने के पश्चात आपको फिर किसी दूसरे सुख की कामना नहीं रहेगी।

हालांकि यदि आप एक सामान्य जीवन जीना चाहते हैं तथा आध्यात्मिकता से आपका कोई संबंध नहीं है तो आप कामवासना की तरफ जा सकते हैं यह भी गलत नहीं है किंतु इससे आप अपने सुख को दूसरे व्यक्ति पर निर्भर रखते हैं।

यदि वह व्यक्ति कभी संभोग से इंकार कर दे तो आप मानसिक तनाव ग्रस्त भी हो सकते हैं।



Hindiram के कुछ शब्द

Physical relationship means in hindi - शादी से पहले शारीरिक संबंध के फायदे तो अनेकों है। जो आपको विभिन्न तरीको से लभप्रत करेगा, लेकिन यह आपके ऊपर निर्भर है कि क्या आप विवाह पूर्व किसी से शारीरिक रूप से जुड़ते है कि नहीं

एक टिप्पणी भेजें

Post a Comment (0)

और नया पुराने