गर्भावस्था 28वां सप्ताह - शिशु विकास, गर्भावस्था लक्षण और प्रेगनेंसी केयर टिप्

प्रेगनेंसी के इस सफर में यदि आप 28 सप्ताह के अहम पड़ाव पर आ गई है तो गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में आपका स्वागत है। वैसे तो अभी आपकी प्रेगनेंसी को 12 सप्ताह और शेष रहनी है मगर आपका शिशु तो अभी से आने की तैयारियां करने लगा होता हैं।



गर्भावस्था के इस नए सफर का आनंद, शायद आप नहीं ले रही होंगी। क्युकी 28 सप्ताह प्रेगनेंसी में परेशान करने वाले प्रेगनेंसी सिंप्टम्स ने अभी भी आपका पीछा नहीं छोड़ा होगा।


हालंकि, इस सप्ताह भी आप आरामदायक महसूस कर सकती हैं जब आप 7 महीने की गर्भवती होती है शिशु दिन प्रतिदिन नई-नई चीजें सीख रहा होता है अब तो वह सपने भी देखने लगा है लेकिन ये सब तो बस शुरुआत है आइए जानते हैं इस सप्ताह और क्या क्या बदलाव होने को हैं


28 week of pregnancy मतलब - 7 माह गर्भावस्था

3rd trimester मतलब - गर्भावस्था तीसरी तिमाही

12 week's to go मतलब - 12 सप्ताह बचें



अट्ठाईस सप्ताह गर्भावस्था - शिशु का विकास, प्रेगनेंसी सिंप्टम्स और देखभाल से जुड़ी जरूरी बाते | 28 week pregnant in hindi

28-week-pregnancy-in-hindi

Here's quick summary


  • शिशु नींद की उस अवस्था में पहुंचने लगा हैं जहां अक्सर हम सपने देखा करते हैं (REM STAGE) मतलब शिशु भी अब सपने देखने लगा है।
  • कुछ समय पहले तक तो शिशु की आंखें बंद हुआ करती थी मगर अब शिशु अपनी आंखें बंद और खोल सकता हैं।
  • शिशु अब चेहरे बनाने लगा हैं कभी कभी तो वह अपनी जीभ बाहर निकाल लेता हैं। ऐसा माना जाता है शिशु एमनियोटिक फ्लूइड टेस्ट कर रहा होता है।





अट्ठाईस सप्ताह गर्भावस्था में शिशु का विकास | Baby development by week 28 in hindi



अट्ठाईस सप्ताह में शिशु का आकार कितना हैं - baby size at 28 week 


जब आप अट्ठाईस सप्ताह के इस अहम पड़ाव में पहुंचती हैं यानी आप 7 माह की भी गर्भवती हो गई हैं अर्थात् आप गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में हैं।


अट्ठाईस सप्ताह में शिशु का आकार (लंबाई) सिर से पांव तक 15 इंच के बराबर होती हैं (लगभग 36.1 सेंटीमीटर), यहां शिशु का वजन भी पहले के मुकाबले काफी बढ़ गया हैं जो अभी 2¼ पाउंड यानी (1,189 किलोग्राम) हो गया होता है



शिशु सपने देखने लगा हैं


क्या आप अपने होने वाले शिशु के सपने देखती हैं?? आपका शिशु भी…! मतलब की इस समय यदि आप विकसित हो रहे भ्रूण के स्लीप साइकिल को जांचे तो आप आसानी से देख सकेंगी शिशु अब नींद की अलग अलग स्टेज में जाने लगा है। उस स्टेज में भी जहां हम सपने देखा करते हैं (REM STAGE)



शिशु में मस्तिष्क का विकास


शिशु का मस्तिष्क इस सप्ताह विकास की दिशा में एक बहुत बड़े पड़ाव को हासिल करने लगा है दिमाग की कोशिकाएं खुद में लकीर और खांचों का निर्माण करने लगें है जो मस्तिष्क को उसके वास्तविक घुमावदार स्वरूप में लाने में मदद करता है।




गर्भनाल में विकास 


गर्भनाल (अमब्लाईकल कॉर्ड) शिशु और प्लाजेंटा में रक्त आदान प्रदान करने जैसा मुख्य कार्य करता है। इसी की सहायता से शिशु न्यूट्रिएंट्स, ऑक्सीजन और दूसरे जरुरी पोषक तत्वों को ले पाता हैं तथा दूषित पदार्थों को बाहर निष्काशित कर पाता हैं अधिकांशतः शिशुओं में गर्भनाल 12 सप्ताह तक पूर्णतः विकसित हो चुके होते है मगर लंबाई और आयतन में लगातार विकसित होते रहते है।


जिस समय एक फुलटर्म बेबी (full term baby) जन्म लेता है गर्भनाल 1 से 3 फीट लंबा और ½ इंच चौड़ा रहता है।



बर्थ पोजीशन में आना


शिशु के जन्म में अब ज्यादा समय शेष नहीं है इस कारण शिशु भी बर्थ पोजीशन में आने को तैयार हो रहा हैं। "बर्थ पोजीशन" जिसमें शिशु का सिर नीचे और पैर ऊपर की ओर होता है। हालांकि, ऐसा होने में भी कुछ समय लगने वाला है। वैसे शिशु अब पलकें झपकाने, हिचकीयां लेने, स्वांस लेना और भी बहुत कुछ सीख गया होता है।



गर्भ के बाहर जीवन


हर बीतते सप्ताह के साथ शिशु गर्भ के बाहर जीवन के लिए और अधिक सक्षम बनते जा रहा होता है। यदि किसी शिशु का जन्म 28 सप्ताह में ही हो जाता है तो 94% संभवनाए हैं, NICU जैसे चिकित्सीय पद्धति के संरक्षण में शिशु गर्भ के बाहर सर्वाइव कर जाएगा।




अट्ठाईस सप्ताह में गर्भवती का शरीर | Your body at 28 week pregnant in hindi



पैरों में झुनझुनी और दर्द


जब आप 28 सप्ताह की गर्भवती होती है आपने गर्भावस्था की दो तिहाई हिस्से को खत्म कर तीसरी तिमाही में प्रवेश ले लिया होता है।


अभी तक, गर्भावस्था का दौर आपके लिए आरामदायक था, तो ठीक है। लेकिन अब शिशु की लाते आपके लिए कष्ट का कारण बनने वाले हैं पैरों में सूजन, आत्याधिक थकान, पीठ दर्द जैसे सिंप्टम्स तो जैसे पीछा ही नहीं छोड़ रहे होंगे


अब तो शिशु भी बर्थ पोजीशन में आने लगा है (पांव ऊपर सिर नीचे) जिसके कारण आप एक तीव्र संवेदना भी महसूस कर सकती है। सुन्न पड़ना, झुनझुनी जो कमर से पैरों तक जाते हैं


यहां गर्म स्नान, बेड रेस्ट, हीटिंग पैड इस्तेमाल करना आपको कुछ आराम पहुंचा सकता हैं अथवा आप आराम के लिए कोई थेरेपी भी ले सकती हैं।




त्वचा का संवेदनशील होना


प्रेगनेंसी हार्मोन्स के प्रभाव से त्वचा का संवेदनशील होना, गर्भावस्था में पूरी तरह समान्य होता है। यहां तक वे महिलाएं भी संवेदनशील त्वचा का शिकार हो जाती है जिन्हे कभी भी सेंसिटिव स्किन की शिकायत नहीं थी। संवेदनशील होने से शरीर के कुछ अंग प्रतिक्रिया भी देंने लगें होते हैं सूखे और परतदार होने की वजह से घमौरीया और इरिटेशन आपकी परेशानी का कारण बन सकते हैं।


प्रेगनेंसी में सबसे अधिक संवेदनशील पेट वाला हिस्सा होता है जिसके बाद जांघो और कूल्हे में भी इसका असर देखने को मिल जाएगा। शरीर में बढ़ते हार्मोन के स्तर आपको उन चीजों के लिए भी संवेदनशील बना देते है जिनसे पहले कभी आपको नुक्सान नहीं हुआ जैसे - धूप, ताप, डिटर्जेंट, क्लोरीन तथा कुछ विशेष खाद्य पदार्थ


खुजली और इरिटेशन शांत करने के लिए आप कैलेमाइन लोशन का प्रयोग प्रभावित अंगों पर कर सकते हैं। अगर इरिटेशन लंबे समय तक ना जाए तो आश्यक हैं आप निरीक्षक से इस पर चर्चा करें





अट्ठाईस सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण | 28 week symptoms of pregnancy in hindi



सिंफिसिस प्यूबिस डिस्फंक्शन (SPD)


प्रेगनेंसी के मजेदार सिम्टम्स तो तब शुरू होते हैं जब रिलैक्सीन हार्मोन लाइग्मेंटस को रिलैक्स और लचीला बनाने लगता है। ये आपके जॉइंटस के संतुलन को प्रभावित करता हैं। जो आपके लिए दर्द का कारण भी बन सकता हैं आप बैली सपोर्ट करने के लिए बेल्ट या बैली बैंड पहन सकते हैं जो आपको संतुलित रखेगा।



मास्क ऑफ प्रेगनेंसी


प्रेगनेंसी हार्मोन ही तव्चा में हाइपरपिगमेंटेशन का कारण बन रहे होते हैं खासकर यदि आपकी स्किन सांवली है। हाइपरपिगमेंटेशन से स्कीन पर डार्क लाइन, लिनिया नियाग्रा और चेहरे पर धब्बे आने लगते हैं। हालांकि, ये सभी सिंप्टम्स प्रेगनेंसी तक ही सीमित होते है जों शिशु जन्म के बाद वापस सामान्य हों जाते हैं।



नाक भरना


प्रोजेस्ट्रोन और एस्ट्रोजन का बढ़ा हुआ स्तर शरीर में रक्त प्रवाह को बढ़ा देता हैं जो नाक और म्यूकस मेंब्रेन को भी प्रभावित कर रहा होता हैं। जिस वजह से इनमें सूजन आ जाती है। नाक भरने से यदि स्वांस लेने में आपको दिक्कत होती है आप सोने से पहले नेसल स्ट्राइप्स उपयोग कर सकते हैं।



चक्कर और बेहोशी


अगर आप सोचती थी, चक्कर और बेहोशी जैसे प्रेगनेंसी सिंप्टम्स से आपको पूरी तरह छुटकारा मिल गया हैं तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। वैसे तो पहली तिमाही में इसने आपको खूब परेशान किया होगा मगर एक बार फिर इससे मिलने को तैयार हो जाएं। कुछ महिलाओं के लिए फुला हुआ पेट, रक्त वाहिनियों में दबाव मस्तिष्क तक रक्त प्रवाह में अवरोध बनने लगता हैं जिससे चक्कर आने की भी संभावनाएं होती है 



ब्लीडिंग गम


गर्भावस्था में मसूड़ों में इंफ्लार्मेंशन और इरिटेशन होना सामान्य हैं इसका कारण भी हार्मोन में आया उतार-चढ़ाव ही है इसलिए प्रेगनेंसी में आपको मसूड़ों और दांतों के देखभाल पर भी जरूर ध्यान देना चाहिए।




ब्लाटिंग और गैस


लगातार बढ़ता हुआ गर्भाशय आपके रेक्टम पर प्रेशर बढ़ने का कारण होता हैं इसी कारण कुछ मसल्स पर से शरीर का नियंत्रण छूट जाता है यहीं आपके सुस्त पड़े पाचन का कारण होते हैं। इस समस्या के लिए भी आप अपने प्रेगनेंसी हार्मोन को जिम्मेदार मान सकते हैं




अट्ठाईस सप्ताह गर्भावस्था में पेट निकलना | Pregnant belly at 28 week in hindi



फेफड़े और पेट पर दबाव बढ़ने से ही आप दर्द का अनुभव कर रहीं होती है। यहां आप ऐसा महसूस कर सकती हैं मानो फेफड़े अन्दर से बाहर की ओर फैल रहे हैं। यहां आपको चिंता करने की जरुरत नहीं क्युकी ये नुकसानदायक बिल्कुल नहीं होते हैं।


28 सप्ताह में यदि आप अपने बड़े हुए पेट को मापे तो, अट्ठाईस सप्ताह में आपके पेट की मौलिक लंबाई 26 से 30 सेंटीमीटर की होती है।


अगर आपके भी पेट मौलिक लंबाई इसी रेंज में है तो यह सबूत हैं आपका शिशु उचित रूप से विकसित हो रहा है। हालांकि, फेटल पोजिशन इसमें प्रभावी होता हैं। खासकर महिलाएं जो जुड़वा बच्चों से गर्भवती है इस अवस्था में मौलिक लंबाई महत्वहीन हो जाता है।


28 सप्ताह में डॉक्टर आपको निर्देश दे दिए होंगें आपको लगातार शिशु की हरकतों पर नजर रखना है जैसे शिशु कब, कितने समय ज्यादा एक्टिव होता है तथा दिन ब दिन उसकी हरकतें कैसी बड़ रहीं हैं


यदि आप कुछ भी अनिश्चित महसूस करें तो तुरंत आपको डॉक्टर को सूचित करना हैं।




अट्ठाईस सप्ताह गर्भावस्था में अल्ट्रासाउंड | Ultrasound in 28 week of pregnancy in hindi


28 सप्ताह गर्भ के अंदर शिशु ज्यादा से ज्यादा फेट विकसित कर रहा होता है उसकी झुरियों वाली त्वचा भी चिकनी होने लगी है आपको जानकर खुशी होगी शिशु आजकल स्वांस लेने और छोड़ने की प्रैक्टिस में लगा है 


शिशु लगातार बड़ा होते जा रहा है वह स्मार्ट भी बन रहा होता हैं। 28 सप्ताह के दौरान आप महिने में 2 बार चेकअप के लिए जा रहीं होती हैं। अगर प्रेगनेंसी में कोई समस्या नहीं है तो इस सप्ताह आपका कोई अल्ट्रासाउंड भी नहीं होगा, लेकिन यदि आपके डॉक्टर को लगता हैं तो वे जरुर अल्ट्रासाउंड कराने के निर्देश दे सकते हैं।




गर्भावस्था में याद रखने वाली चीजें - 28 week pregnant checklist


  • शिशु की हरकतों पर नजर रखें
  • प्रीनेटल विटामिंस लेते रहें
  • रोजाना 8 से 10 गिलास पानी जरूर पिए
  • दर्द से आराम पाने के रास्ते खोजें 
  • नए सिंप्टम्स के विषय में डॉक्टर से निर्देश ले




गर्भावस्था अट्ठाईस सप्ताह केयर टिप्स | Self care tips 28 week pregnant in hindi



अपना Rh फैक्टर पता करें


क्या आपका Rh फैक्टर पॉजिटिव है या Rh नेगेटिव है अगर आप नहीं जानते तो, यह बहुत जरूरी है कि आप इसका पता लगाए


Rh एक प्रोटीन है जो लाल रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है अगर आपमें यह है मतलब आप Rh पॉजिटिव है अगर नहीं है तो आप Rh नेगेटिव है।


जब आप गर्भवती नहीं थी तब इसका होना या ना होना आपके लिए कोई महत्व नहीं रखता, मगर समस्या तब आती हैं जब आप तो Rh नेगेटिव है लेकिन शिशु का Rh पॉजिटिव है


Rh में असंतुलन होने से इम्यून सिस्टम बेबी के ब्लड सेल्स को बाहरी समझने लगता है और इसे खत्म करने के लिए एंटीबॉडी भेजता है।


अगर आप Rh नेगेटिव और बेबी Rh पॉजिटिव है आपको एक वैक्सीन की जरूरत है Rh-immune-globuline जिसे RhoGAM भी कहते हैं। जिससे एंटीबॉडी के डेवलपमेंट को रोका जा सके।




आयरन की मात्रा ले


शिशु सबसे ज्यादा आयरन तीसरी तिमाही में ही लेता है इसलिए आयरन रिच फूड जैसे चिकन, बिंस, स्पेनिच, टोफू और बीफ जरुर खाएं


इसके साथ विटामिन सी लेना ना भूले क्योंकि ये आयरन के अवशोषण में मदद करता हैं आप विटामिन सी सप्लीमेंट भी ले सकते हैं।




अट्ठाईस सप्ताह के लिए प्रेगनेंसी डाइट


यदि आप वेजीटेरियन है तो आपको जरूरी पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, विटामिन बी12, कैल्शियम, विटामिन डी, डीएचए, आयरन और फोलेट की उचित मात्रा लेना आवश्यक हैं 


  • प्रोटीन युक्त भोजन खाए - जैसे नाइट्स, मूंगफली, दाल
  • यदि आप दूध नहीं पीना चाहती, तो आप दही का सेवन करें 
  • हरी सब्जियां खाये, रेशेदार फल और सब्जियां जरूर सेवन करे




FAQ. प्रेगनेंसी में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के उत्तर


क्या प्रेगनेंसी में सेक्स कर सकते हैं?

जी हां..., प्रेगनेंसी में संभोग करना पूरी तरह सुरक्षित हैं व इससे शिशु को कोई नुक्सान नहीं होता है, बल्कि शिशु को इन सबका कुछ पता ही नहीं होता 



प्रेगनेंसी में कौन सी गलतियां ना करें?

प्रेगनेंसी में नशीले पदार्थों के सेवन से दूर रहें, ऐसे कार्यों को न करें जिसमें अत्याधिक शारीरिक कसरत की जरूरत हो



प्रेगनेंसी में क्या करना चाहिए?

एक प्रेगनेंसी बहुत से उतार चढ़ावो से भरा होता है इसलिए आपको एक हेल्दी लाइफ स्टाइल अपनाने की जरूरत है, अपने पार्टनर, परिवारजनों और दोस्तों के साथ समय व्यतीत करें




Hindiram के कुछ शब्द


28 week of pregnancy in hindi : प्रेगनेंसी का ये सप्ताह गर्भवती और शिशु दोनों के लिए अनेकों बदलाव लेकर आता है लेकिन अभी सबसे जरूरी होगा आप खुद का और शिशु का ख्याल रखें, हेल्दी डाइट ले, और अधिक से अधिक पानी पिए, यदि आपको किसी प्रकार की शंशा हैं तो अपने निरीक्षक से परामर्श कर सकते हैं।

और नया पुराने