गर्भावस्था आठ सप्ताह - शिशु विकास, गर्भावस्था लक्षण और प्रेगनेंसी टिप्स | 8 week pregnancy in hindi

गर्भावस्था का आठवां सप्ताह, जहां बीते सप्ताहों की तरह ही इस सप्ताह कोई बाहरी बदलाव देखने को नहीं मिलेगा, आप गर्भवति हैं, इस बात का एहसास कमर और ब्रेस्ट पर टाईट हो रहें कपड़े बता रहे होगें


अगर आप उन 75% महिलाओं में होगी जो मॉर्निंग सिकनेस महसूस करती है यह भी आपको गर्भवती होने का संकेत दे रहा होता है


8 सप्ताह गर्भावस्था में शिशु 1 मिलीमीटर प्रति दिन के दर से बढ़ रहा होता है, हालांकि, शिशु का आकार अभी भी छोटा ही हैं वैसे तो आप शिशु को आंखों को अभी नहीं देख सकेंगे लेकिन इस सप्ताह शिशु की आंखों में रेटिना का विकास हो रहा होता है


8 week pregnancy मतलब - 2 माह गर्भावस्था
1st trimester मतलब - गर्भावस्था दूसरी तिमाही
32 week's to go मतलब - 32 सप्ताह बचें


गर्भावस्था आठ सप्ताह - शिशु विकास, प्रेगनेंसी सिंप्टम्स और देखभाल से जुड़ी जरूरी बाते | 8 week pregnancy in hindi


8-week-pregnancy-in-hindi


Here's quick summary

  • इस सप्ताह से आप भ्रूण को पूर्णत: शिशु बुला सकती है क्योंकि भ्रूण अब परिपक्व बनने की ओर अग्रसर हो चुका है, 
  • इस सप्ताह शिशु के जेनिटल (जननांग) भी बनना शुरू हो गए हैं लेकिन अभी इसे आप नहीं जान सकेंगी
  • इस सप्ताह के आखिर तक शिशु के शरीर के लगभग सभी जरूरी अंग विकसित होना शुरू हो जाते हैं

     





आठ सप्ताह गर्भावस्था में शिशु का विकास | Baby development by week 8 pregnancy in hindi




इस सप्ताह शिशु का आकार - baby size at 8 week 


शिशु जो काफी तेजी से विकसित होने लगा हैं इस सप्ताह शिशु का आकार (लम्बाई) तीन चौथाई ¾ या ½ इंच लंबा या 1.5 से. मी. के जितना हो गया होता हैं 


अब तो शिशु की शारीरिक रूप रेखा भी बनने लगी है शरीर के आंतरिक व बाहरी अंग विकसित होने लगें हैं शिशु अब बहुत कुछ इंसानों जैसे दिखने लगा है




शारीरिक विकास


  • जैसे-जैसे शिशु विकसित होने लगता है उसकी पूछ जाने लगती है शिशु इंसानों जैसा दिखने लगता है
  • बांहो व पैरों के लिए जो कोशिकाएं विकसित हुई थीं अब उनमें उंगलियों और पंजो का विकास होने लगता है जो अभी पैडल के समान दिख रहे होते हैं
  • शिशु की आंते भी विकसित हो रही होती है



चेहरे का विकास


  • शिशु के नाक और होंठ दिखने लगे हैं
  • भौहे भी आने लगीं हैं
  • कान भी बनने की प्रारंभिक अवस्था में है


जननांग : शिशु के जननांग भी विकसित होना शुरू हो गए होते हैं मगर अभी आप उसके लड़का या लड़की होने के राज को नहीं जान सकेंगी




शिशु हिलने डुलने भी लगा है


शिशु हिलने अर्थात् हरकत करने लगा हैं। जब आपका शिशु 7 से 8 सप्ताह का होता हैं तब उसमें पहली हरकत होने लगती है इसे अल्ट्रासाउंड के जरिए भी देखा जा सकता हैं, हालांकि, उसकी हरकतों को आप 16 से 22 सप्ताह के बाद ही महसूस कर सकेंगी, 



शिशु की हार्टबीट


हालांकि, इतनी तेजी से विकसित होना शिशु के लिए भी काफी रोमांचित होता है अब तो शिशु की हार्टबीट भी काफी तेज धड़कने लगा हैं जों की आपकी धड़कनों से दोगुनी गती का हैं (लगभग 150 से 170 बीट्स प्रति मिनट)




आठ सप्ताह में गर्भवती का शरीर | Your body at 8 week pregnancy in hindi


8-week-pregnant-belly


मॉर्निंग सिकनेस


बाहर से गर्भवती होना शिशु आपको बिल्कुल भी नहीं दिखा रहा होता हैं लेकिन कपड़े जो आपको कमर और स्तनों टाईट हो रहें होते हैं गर्भवती होने का एहसास जरुर दिला देते होंगे, गर्भाशय भी पहले के मुकाबले कुछ छुटकी भर बड़ा हो गया होता हैं


प्रेगनेंसी की सबसे बुरी - "मॉर्निंग सिकनेस" जिसे आप महसूस कर रही होंगी, जो ना कि सुबह बल्की दिन के किसी भी समय आपको परेशान कर देता होगा, अच्छी बात ये है उल्टी और मतली की ये समस्या अब आपको ज्यादा समय तक परेशान नहीं करेगा क्युकी 12 से 14 सप्ताहों के बाद आपको इस समस्या से छुटकारा मिलने लगेगा


 


आठ सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण | Week 8 Pregnancy symptoms in hindi



प्रेगनेंसी के लक्षण अनिश्चित होते हैं मतलब की इनका होना अलग-अलग महिलाओं व प्रेगनेंसी पर निर्भर करता हैं शायद कुछ लक्षण आप अभी से महसूस कर रहीं होंगी या आने वाले सप्ताहों में इसे आप महसूस करेंगी, कुछ प्रेगनेंसी के लक्षण जैसे -



सफेद डिसचार्ज होना


सफेद डिस्चार्ज होना प्रेगनेंसी के शुरुआत में सामान्य होता है ऐसा शरीर में एस्ट्रोजन लेवल बढ़ने से होता है। सफेद डिसचार्ज जिसे लिकोरिया भी कहते है ये सफेद दूधिया, गाढ़ा या पतला, हल्की गंध या गंधहिन हो सकता हैं


लेकीन अगर वेजाइनल डिसचार्ज हरा, दुर्गंध के साथ, दर्द खुजली के साथ आए या कुछ अनिश्चित लक्षण दिखने लगे तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए क्योंकि ये किसी इन्फेक्शन का कारण भी हो सकते हैं।




ब्रेस्ट चेंजेज


स्तनों का बढ़ना प्रेगनेंसी के शुरूआती लक्षणों में एक है क्युकी स्तनों में बनने वाला दूध ही जन्म के बाद शिशु को पोषित करता हैं, स्तनों का बढ़ाना भले आपके लिए असुविधाजनक हो सकता है मगर यह आपके पार्टनर को आकर्षित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा होता हैं। हैरान ना हो अगर इनके आकार में आप बहुत ज्यादा बदलाव देखे खासकर अगर ये आपका पहला शिशु हैं अन्य बदलवा जो आप देख सकती है - नसों का उभरना, डार्कर निप्पल




पेट का फूलना - bloating


दूसरी तिमाही से पहले तो आपकी प्रेगनेंट बैली नहीं निकलेंगी, मगर शुरुआती प्रेगनेंसी में होने वाले हार्मोनल बदलावो के कारण पेट फुला फुला महसूस करेंगी, लेकिन ये आपको प्रेगनेंट बैली (बेबी बंप) नहीं जो आपको महसूस होने लगा है पेट का फूलना (bloating) की ही वजह से आपको कुछ कपड़े टाईट और अनफिट होने लगते हैं




सेंस ऑफ स्मेल का बढ़ना


अगर ये आपकी पहली प्रेग्नेंसी होगी तो प्रेगनेंसी के इस लक्षण से आप हैरत में पड़ गई होंगी, सुगंध लेने की क्षमता में आया ये विकास दुर्भाग्यवश होने वाली मतली और उल्टी का कारण भी बन जाता होगा, वैसे यह भी प्रेगनेंसी में बढ़े हार्मोन स्तर के कारण है जिसके कारण ही कुछ खाद्य पदार्थों के प्रति अरुचि (फूड एवर्जन) होने लगता हैं




प्रेगनेंसी के अनोखे सपने


गर्भावस्था में अक्सर महिलाओं को आने वाले सपने उन्हे हैरत में डाल देता हैं खासकर पहली तिमाही में आने वाले सपने, कई बार ये आपको डराएंगी, कभी कभी आप खुश होंगी तो कई बार ये आपके चिंता का कारण भी बन जाएंगे



हाइपरमिश ग्रेविड्रम


गर्भावस्था में मॉर्निंग सिकनेस तो लगभग सभी महिलाएं महसूस किया करती है लेकिन कुछ ऐसी भी गर्भवतियां होती हैं जिन्हें प्रेगनेंसी में होने वाली ये उल्टी और मतली बहुत ज्यादा परेशान करने लगती हैं प्रेगनेंसी की इस कंडीशन को हाइपरमिश ग्रेविड्रम भी कहते हैं जो उन्हे कई बार डिहाइड्रेशन, वजन कम होना, और दूसरे कॉम्प्लिकेशन का शिकार बना देता है


अगर आपको भी कुछ अनिश्चित लक्षण महसूस हो रहे हों जैसे - आत्याधिक उल्टी और मतली, कमजोरी, बेहोशी या चक्कर आना, बुखार, पेट दर्द व ऐठन हो तो आपको किसी विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए




गर्भावस्था आठवे सप्ताह में पेट निकलना | Pregnant belly at 8 week pregnancy in hindi



एक गर्भवती महिला के लिए 8 सप्ताह बहुत कम समय होता है जब उन्हे प्रेग्नेंट बैली दिखने लगती है लेकिन जब आपकी प्रेगनेंट बैली दिखने लगेगी तब इसे आप छिपा भी नहीं पाएंगी (सामान्यतः दूसरी तिमाही के दौरान)


हालांकि, पहली तिमाही का समय आपके लिए काफी असुविधाजनक हो सकता है अत्याधिक थकान, मतली, चिंता ना करें, क्योंकि, अब वह समय भी दूर नहीं जब आपका शिशु खुद को दिखाने लगेगा (बेबी बंप)


 


गर्भावस्था के आठवे सप्ताह में अल्ट्रासाउंड | Ultrasound 8 week pregnancy in hindi



वैसे तो 8 सप्ताह में अल्ट्रासाउंड कराना जरूरी नहीं इसलिए इसे आप करा भी सकती है और नहीं भी, बहुत से निरीक्षक शुरुआती प्रेगनेंसी में अल्ट्रासाउंड कराना आवश्यक नहीं समझते तथा कुछ महिलाओं को शुरुआती प्रेगनेंसी में बहुत ज्यादा अल्ट्रासाउंड कराने की जरूरत पड़ सकती हैं


हालांकि, गर्भावस्था के इस इस समय आपका ब्लड और यूरिन टेस्ट हो सकता हैं, जिसकी मदद से डॉक्टर - प्रेगनेंसी कंफर्म करेंगे, यूटीआई, एनीमिया, सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिसीसिस, ब्लड टाइप, RH फैक्टर, इम्यूनिटी आदि चीजों की जांच की जायेगी




गर्भावस्था आठ सप्ताह केयर टिप्स | Self care tips 8 week pregnancy in hindi



मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखें


गर्भावस्था की इस समय मानसिक तनाव महसूस करना सामान्य है लेकिन अगर यह तनाव और चिंता आपको बहुत ज्यादा परेशान करने लगें तो बेहतर होगा आप किसी निर्देशक से किस पर चर्चा करें



अच्छी नींद ले


प्रेगनेंसी में होने वाले आत्याधिक हार्मोनल बदलावो और शारीरिक बदलावो के बिच चैन की नींद लेना भी बहुत मुश्किल भरा हो सकता है, क्युकी एक नए जीवन के निर्माण में (भले वह कितना ही छोटा क्यों न हो) ऊर्जा की आवश्यक्ता होती है इसके साथ प्रेगनेंसी के शुरूआती लक्षणों के बीच जैस - बार बार पेशाब लगना, हार्टबर्न, उल्टी और मतली के बीच खुद को आराम देने के लिए आप जो कर सकती हैं वह करे - जल्दी सोने जाए, निश्चीत समय पर उठे



प्रेगनेंसी में वेट गेन करना


जानना चाहती है प्रेगनेंसी में आप कितना वेट गेन करेंगी? यह आपके प्रेगनेंसी से पहले body mass index पर निर्भर करता हैं साथ ही यदि आप जुड़वा बच्चो को मां तो नहीं, अगर आप एक हेल्दी वेट गेन करना चाहतीं है तो 3 से 5 पाउंड वजन सामान्य रहेगा




कम कम करके खाएं


प्रेगनेंसी में उल्टी और मतली की समस्या से लड़ना बिल्कुल भी आसान आसान नहीं होता, यह तब और जरूरी हो जाता है जब आप खुद को पोषित कर रही हो


चिंता ना करें, पहली तिमाही में आप ज्यादा वेट गेन नहीं करेंगी और अभी आपको उतनी भूख भी नहीं लगेगी, लेकिन फिर भी आपको अपनी रोजमर्रा के जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति जरुर करना चाहिए


अगर आप बहुत बड़े रूप में भोजन करती है तो कम करे अर्थात थोड़ा करके खाएं, एक साथ बहुत सारा खाना खाना आपको प्रेगनेंसी में होने वाले हार्टबर्न और कब्ज जैसी समस्या का शिकार बना सकते है छोटे छोटे रूप में भोजन करना आपको प्रेगनेंसी में होने वाली इन्हीं समस्याओं बचने में सहायता करेगा




अपनी त्वचा का ध्यान रखें


वैसे तो त्वचा के लिए सनस्क्रीन बहुत फायदेमंद होता है मगर प्रेगनेंसी में इसका उपयोग त्वचा की सुरक्षा के लिए बहुत जरुरी हो जाता हैं क्युकी ये आपको हार्मोन असंतुलन से हुए प्रभावों जैसे - डार्क पैचेस, से बचाता है। जिन महिलाओं को त्वचा डार्क है उन्हें खासकर इसका प्रयोग अवश्य करना चाहिए



सात सप्ताह के लिए प्रेगनेंसी डाइट


  • प्रोटीन युक्त भोजन खाए - जैसे नाइट्स, मूंगफली, दाल
  • यदि आप दूध नहीं पीना चाहती, तो आप दही का सेवन करें 
  • हरी सब्जियां खाये, रेशेदार फल और सब्जियां जरूर सेवन करे




Hindiram के कुछ शब्द


8 सप्ताह गर्भावस्था, इस समय महिलाएं अधिकांशत: शुरुआती प्रेगनेंसी के लक्षणों से जूझ रहीं होती हैं चिंता की कोई बात नहीं क्युकी ये सभी प्रेगनेंसी के लक्षण महसूस होना सामान्य है, लेकिन फिर भी आपको इसको लेकर कोई शंशा है तो आप उसे अपने निरीक्षक से पूछ सकती हैं। इस सप्ताह भी शिशु में बहुत से बदलाव हुए हैं तथा आने वाले सप्ताहों में ये शिशु और भी तेजी से विकसित होगा

और नया पुराने