अजवाइन से गर्भपात कैसे करें | anjwain se garbhpat kaise kare

वैसे तो गर्भपात करवाने के पीछे कारण अनेकों हो सकते हैं। शायद अनजाने में आपने गर्भधारण कर लिया हो, या अभी आप फैमिली प्लानिंग नहीं कर रहीं 


ऐसे में बचने का सिर्फ एक ही रास्ता दिखता है ” गर्भपात ” लेकिन कैसे ? क्या गर्भपात के लिए घरेलू नुस्खा अपनाया जाए

 

गर्भपात का सही तरीका क्या हैं ? अजवाइन से गर्भपात होगा, क्या अजवाइन से गर्भपात कराना सही रहेगा ? 

यदि आप अनचाही प्रेगनेंसी से परेशान होंगे, तो इस तरह के कई सवाल आपके भी मन मे जरूर आए होंगे। तथा आप ऐसे रास्तों के तलाश में होंगी जिससे बिना डॉक्टर के आप आसानी से गर्भपात करा सकें 

घरेलू नुस्खे जैसे – अजवाइन से गर्भपात किया जा सकता है ? इससे कोई नुक्सान तो नहीं होगा तथा अजवाइन से गर्भपात कैसे करें, आज इस लेख में जानेंगे। 

जरूर देखें : अपूर्ण गर्भपात होने की वजह तथा उपचार

गर्भपात कैसे करें | how to abort pregnancy in hindi

अजवाइन-से-गर्भपात-कैसे-करें

गर्भपात दो तरह के होते है –

स्वतत: गर्भपात 

इस तरह के गर्भपात अपने आप ही हो जाया करते है बिना किसी कारण के, ऐसा होने के बहुत से कारण हो सकते जैस – अनहैल्दी प्रेगनेंसी, या आपकी मेडिकल कंडीशन का ठीक न होना, कई बार तो ये लगातार भी हो जाते हैं।

गर्भपात कराना

इसे गर्भवती अपनी मर्जी से करवाती है। यदि वो अपनी प्रेगनेंसी आगे नहीं बढ़ाना चाहतीं तो उसके पास गर्भपात करवाने का रास्ता होता है। जिससे वह अपनी अनवांटेड प्रेगनेंसी रोक सकती है।

गर्भपात कब करा सकते

प्रेगनेंसी में अबॉर्शन कराए जाने के पीछे वजह अनेकों हो सकती है यदि आप हेल्दी अबॉर्शन चाहती है तो 10 सप्ताह से पहले आपको गर्भपात करा लेना चाहिए।

गर्भावस्था में बहुत आगे आने पर, गर्भपात कराना खतरनाक हो जाता है। 10 सप्ताह बाद आपको दवाइयों तथा घरेलू नुस्खे का उपयोग करने से भी बचना चाहिए

गर्भपात के लिए सही तरीका चुनना चाहिए…

घरेलू नुस्खों से गर्भपात क्यों नहीं करें

घरेलू नुस्खे से गर्भपात करना देखने में तो आसान लगता है, वैसे भी ये पुराने समय से चले आ रहे है इसलिए काफी विश्वसनीय भी लगते है।

चूंकि वैज्ञानिक तौर इनसे गर्भपात होने की कोई पुष्टि नहीं, इसलिए गर्भपात के लिए घरेलू उपायों का प्रयोग खतरे से कम नहीं, इससे गर्भपात अधूरा होने की संभावना रहती यदि ऐसा है तो इसे देखे – अपूर्ण गर्भपात होने की वजह तथा उपचार

चलिए जानते हैं अजवाइन से गर्भपात के लिए किन किन तरीकों को उपयोग किया जाता है…

अजवाइन से गर्भपात कैसे करें

क्या अजवाइन से गर्भपात हो सकता है ? देखिए… हमारे देश में बहुत पहले से ही अजवाइन का उपयोग महिलाएं गर्भपात के लिए करती आयी हैं

कुछ वैज्ञानिक शोध ये दावा भी करते, प्रेगनेंसी में अजवाइन मिसकैरेज करा सकता हैं। अजवाइन अत्याधिक रूप से लेना चाइल्ड डिफेक्ट का कारण भी बनता है।

हालांकि, ये शोध सीधे इंसानों पर तो नहीं हुए, मादा जंतुओं में अजवाइन का अत्याधिक सेवन चाइल्ड डेवलपमेंट को अफेक्ट करता है। 

अतः साफ तौर पर तो कहा नहीं जा सकता, लेकिन अजवाइन से गर्भपात नहीं होगा। कुछ तरीके हैं जिन्हें महिलाएं अजवाइन से गर्भपात करने के लिए उपयोग करती है –


अजवाइन से गर्भपात के तरीके 

प्रेगनेंसी में अजवाइन का सीमित मात्रा से अधिक उपयोग गर्भावस्था के लिए हानिकारक माना जाता है। इससे गर्भाशय में कॉन्ट्रक्शन बढ़ता है जिससे मिसकैरेज भी हो जाता है 

अजवाइन पानी से गर्भपात

  • एक चम्मच अजवाइन बीज ले
  • इसे एक गिलास गर्म पानी में मिलाएं
  • रात भर ऐसे ही रहने दें
  • इस पानी की दिन में दो से तीन बार रोज पिए
  • ये सबसे पुराना घरेलू उपाय है 

अजवाइन चूर्ण से गर्भपात

  • आधा चम्मच अजवाइन चूर्ण ले
  • इसे गर्म पानी के साथ खाने के बाद या पहले ले

अजवाइन अर्क से गर्भपात

  • 5 से 10 बूंद अजवाइन अर्क ले
  • इसे गर्म पानी के साथ खाने के बाद ले

अजवाइन कैप्सूल से गर्भपात

  • अजवाइन कैप्सूल ले
  • खाना खाने के बाद इसे गर्म पानी के साथ ले

अजवाइन टेबलेट से गर्भपात

  • अजवाइन टेबलेट ले
  • इसे गर्म पानी के साथ खाना खाने के बाद खाय

अजवाइन काढ़ा से गर्भपात

  • एक से दो गिलास पानी गर्म करें
  • एक चम्मच अजवाइन के बीज डाले
  • इसे धीमी आंच में 10 मिनट उबालें
  • फिर इस काढ़े का सेवन करें
  • आप पानी को दूध के साथ बदल सकती हैं

अजवाइन बीज से गर्भपात

  • आधा चम्मच अजवाइन बीज ले
  • इसे शहद या हल्के गर्म पानी के साथ ले

अजवाइन का सेवन कब ना करें

अजवाइन के सेवन से पहले इसे टेस्ट करके देखना चाहिए, क्योंकि बहुत से लोगों को अजवाइन से एलर्जी हो सकती है। ऐसे में अजवाइन लेना अधिक हानिकारक हो सकता है जैसे – नाक बहना, शरीर में दाने

अजवाइन से साइड इफेक्ट

ऐठन : प्रेगनेंसी में यदी अजवायन को अधिक मात्रा में खाया जाए, इससे पेट मे ऐठन होने की समस्या हो जाती हैं।

उल्टी और मतली : अजवायन का अधिक सेवन गर्भवास्था में उल्टी और मतली को अधिक बढ़ा देता है इसलिए इसे सीमित मात्रा में लिया जाता है।

सिर दर्द : अजवाइन एक प्रकार का मसाला है इसे घरेलू नुस्खे के रूप में भी प्रयोग किया जाता है लेकिन इसका अधिक सेवन सिर दर्द का कारण बन सकता है।

अजवाइन के सेवन से फायदे

अपच दूर करता

थायमोल, जो अजवाइन में होता है ये एंटीमाइक्रोबॉयल की तरह कार्य करता है जिसे पेट संबंधी रोगों से राहत पाने के लिए उपयोग किया जाता हैं जैसे – इनडाइजेशन, डायरिया 

अस्थमा में राहत

ब्रोंचोडिलेटिंग इफेक्ट के कारण अजवाइन उन लोगों को राहत पहुंचाता हैं जिन्हें अस्थमा की शिकायत होती है।

किडनी स्टोन में राहत

अजवाइन में एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टी होते हैं जो किडनी स्टोन के फॉरमेशन को रोकता है। अजवाइन में मौजुद प्रोटीन कैल्शियम ऑक्सलेट और कैलशियम फास्फेट को एकत्रित होने से बचाता है और किडनी स्टोन में सहायता करता है।

गर्भपात का सही तरीका क्या हैं

यदि आप गर्भपात के लिए सही तरीका तलाश रहे हैं तो आपको खासकर घरेलू उपायों को अपनाने से बचना चाहिए, अजवाइन से गर्भपात जैसे घरेलू नुस्खे जानलेवा साबित हो सकते हैं…

मेडिकल अबॉर्शन ( medical abortion )

मेडिकल अबॉर्शन एक सुरक्षित गर्भपात प्रक्रिया है जिसमें कुछ दवाइयों के प्रयोग से प्रेगनेंसी टर्मिनेट की जाती है। Mifepristone और misoprostal यही दोनों मेडिकेशन यूज कर गर्भपात किया जाता है।

सर्जिकल अबॉर्शन ( surgical abortion )

सर्जिकल अबॉर्शन का उपयोग 10 सप्ताह के बाद की प्रेगनेसी खत्म करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसमें भी दो तरह के अबॉर्शन होते है एस्पिरेशन अबॉर्शन और डाईलेशन एंड एवेक्यूएशन अबॉर्शन

Hindiram के कुछ शब्द

अजवायन से गर्भपात कैसे करें ? यदि आप बिना डॉक्टर के गर्भपात कराने की सोच रहे हैं तो रूके, घरेलू उपायों से गर्भपात कराना हानिकारक हो सकता है तथा इनसे अधूरे गर्भपात होने की संभावना रहती है। इसलिए सही तरीके का उपयोग करें।

Share on:

Leave a Comment